HOMESportsक्रिकेटखेलराष्ट्रीय

T20 बल्लेबाज़ी के बाद गेंदबाजों का कहर, न्यूजीलैंड को 168 रन से हरा कर भारत ने सीरीज जीती

T20 बल्लेबाज़ी के बाद गेंदबाजों का कहर, न्यूजीलैंड को 168 रन से हरा कर भारत ने सीरीज जीती

T20 बल्लेबाज़ी के बाद गेंदबाजों का कहर इस कदर छाया कि न्यूजीलैंड को 168 रन से हरा कर भारत ने टी20 सीरीज जीत ली। 66 रन में न्यूजीलैण्ड की पूरी टीम धरासायी हो गई।

टीम इंडिया ने तीसरे टी-20 मैच में न्यूजीलैंड को 168 रन से हराकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। अहमदाबाद में हुए सीरीज के आखिरी मुकाबले में भारत ने शुभमन गिल के इस फॉर्मेट में पहले शतक की बदौलत 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 234 रन बनाए। जवाब में कीवी टीम 12.1 ओवर में 66 रन के स्कोर पर ऑलराउट हो गई। हार्दिक पंड्या ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। पंड्या ने ब्लेयर टिकनर एक रन, लोकी फर्ग्युसन शून्य, ग्लेन फिलिप्स 2 रन और फिन एलेन 3 रन के विकेट लिए।

यह टी-20 क्रिकेट में रन के लिहाज से भारत की अब तक की सबसे बड़ी जीत और न्यूजीलैंड की सबसे बड़ी हार है। भारत का पिछला रिकॉर्ड 143 रन से जीत का था। टीम इंडिया ने 2018 में आयरलैंड को 143 रन से हराया। वहीं, न्यूजीलैंड की टीम इससे पहले पाकिस्तान के खिलाफ 2010 में 103 रन से हारी थी।

पंड्या के अलावा अर्शदीप सिंह ने मार्क चैपमैन को (शून्य) और ड्वेन कॉन्वे (एक रन) को चलता किया। वहीं, शिवम मावी ने ईश सोढ़ी (शून्य) और मिचेल सेंटनर को चलता किया।

एक विकेट उमरान मलिक को मिला। उन्होंने माइकल ब्रेसवेल (8 रन) को बोल्ड किया।

कीवी टीम के विकेट

  • पहला: कप्तान पंड्या ने पहले ओवर की 5वीं बॉल पर फिन एलेन को स्लिप पर खड़े सूर्या के हाथों कैच कराया।
  • दूसरा : दूसरे ओवर की पहली बॉल पर अर्शदीप सिंह ने ड्वेन कॉन्वे को पंड्या के हाथों कैच कराया।
  • तीसरा : दूसरे ही ओवर की आखिरी बॉल पर अर्शदीप ने मार्क चैपमैन को ईशान किशन के हाथों कैच कराया।
  • चौथा : कप्तान पंड्या ने तीसरे ओवर की 4वीं बॉल पर ग्लेन फिलिप्स को स्लिप पर खड़े सूर्या के हाथों कैच कराया।
  • पांचवां : 5वें ओवर में उमरान मलिक ने माइकल ब्रेसवेल को बोल्ड कर दिया।
  • छठा : मावी ने सेंटनर को सूर्या के हाथों कैच कराया।
  • सातवां : मावी ने ईश सोढ़ी को त्रिपाठी के हाथों कैच कराया।
  • आठवां : पंड्या ने लोकी फर्ग्युसन को उमरान मलिक के हाथों कैच कराया।

Show More

Related Articles

Back to top button