प्रदेश

लखनऊ में गैंगरेप विक्टिम पर एसिड फेंका, 9 साल में पांचवी बार हमला


लखनऊ.    यूपी की राजधानी में शनिवार रात रायबरेली की रहने वाली गैंगरेप विक्टिम पर किसी ने तेजाब फेंक दिया। उसके चेहरे का दाहिना हिस्सा और उसका कंधा इससे बुरी तरह झुलस गए। विक्टिम को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। विक्टिम महिला पर 9 साल में ये 5वां हमला है। इससे पहले 23 मार्च को उसे ट्रेन में तेजाब पिलाने की कोशिश की गई थी। पुलिस इसकी जांच कर रही है। महिला लखनऊ के एक कैफे में काम करती है जिसे एसिड अटैक सर्वाइवर महिलाएं चलाती हैं। 
 गैंगरेप विक्टिम फिलहाल अलीगंज के एक हॉस्टल में रहती है। आईजी रेंज लखनऊ जय प्रकाश नारायण सिंह के मुताबिक, हॉस्टल के गार्ड ने बताया कि जब वह महिला का शोर सुनकर पहुंचा तो महिला ने जिस ओर आरोपियों के भागने का इशारा किया, वह उधर दौड़कर गया, पर कोई नजर नहीं आया। हॉस्टल की दीवार करीब साढ़े छह फीट ऊंची है। 
– आईजी सिंह का कहना है कि महिला पर तेजाब किसने डाला, इसकी जांच हो रही है। इससे पहले विक्टिम ने जिन भोंदू सिंह और गुड्डू पर आरोप लगाया था, उन्हें रायबरेली में करीब साढ़े नौ बजे पुलिस कस्टडी में ले लिया गया। दोनों रायबरेली में ही मौजूद थे। महिला जो तहरीर देगी, उसके मुताबिक रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
 पानी भरने नल पर गई थी, तभी हुआ हमला
– सीओ अलीगंज विवेक त्रिपाठी के मुताबिक महिला का कहना है कि शनिवार रात करीब 7:50 बजे वह पानी भरने हॉस्टल के नीचे लगे नल पर गई थी, तभी उस पर तेजाब से हमला हुआ। महिला की चीख-पुकार सुनकर हॉस्टल की अन्य महिलाएं बाहर आ गईं।
 अभी एफआईआर दर्ज नहीं की          
– एडीजी जोन अभय प्रसाद ने कहा, “गैंगरेप विक्टिम महिला पर एस‍िड अटैक होने की जानकारी मिली है। उसे ट्रॉमा में एडमिट कराया गया है। अभी कोई एफआईआर नहीं दर्ज हुई है। पुलिस जांच कर रही है।”
 23 मार्च को हुई थी तेजाब पिलाने की कोशिश  
– इससे पहले 23 मार्च को गैंगरेप विक्टिम को ट्रेन में तेजाब पिलाने की कोशिश की गई थी। उस वक्त महिला इलाहाबाद-लखनऊ गंगा गोमती एक्सप्रेस से ऊंचाहार के तवाईयाधनी गांव से लखनऊ जा रही थी।  
– चारबाग स्टेशन पर उतरने के बाद महिला ने पुलिस को बताया कि मोहनलालगंज के पास कुछ गुंडों ने उसे जबर्दस्ती तेजाब पिलाने की कोशिश की। विरोध करने पर तेजाब उस पर फेंक दिया। महिला बोल नहीं पा रही थी। उसने कागज पर लिखकर आपबीती बताई और शिकायत दर्ज कराई। बाद में उसे लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया।
 9 साल में पांचवां हमला
– 45 साल की इस महिला पर बीते 9 साल में यह पांचवां हमला है। 2008 में दो लोगों ने प्रॉपर्टी विवाद के बाद उसका गैंगरेप किया था। 2012 में उस पर चाकू से हमला किया गया। 2013 में उस पर एसिड फेंका गया था। पिछले साल दिसंबर में उसे उसकी बेटी से रेप करने की धमकी भी दी गई थी। 
– तेजाब पि‍लाने की घटना सामने आने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस महिला से मुलाकात की थी। उन्होंने महिला को हर मुमकिन मदद देने का भरोसा दिया था और एक लाख रुपए का चेक भी दिया था। 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button