विदेशहाेम

ऑस्ट्रेलिया के सांसद बोले- CM योगी आदित्यनाथ हमें कुछ दिनों के लिए दे दीजिए.. पसंद आया ये काम

Advertisements

नई दिल्ली, 11 जुलाई: ”सीएम योगी आदित्यनाथ हमें कुछ दिनों के लिए दे दीजिए…” ये ट्वीट ऑस्ट्रेलिया के सांसद क्रैग केली ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से 10 जुलाई को किया है। ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रैग केली का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। असल में ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रैग केली को उत्तर प्रदेश के कोरोना वायरस प्रबंधन का मॉडल पसंद आया है। इसलिए वह चाहते हैं कि कुछ दिनों के लिए यूपी सीएम योगी वहां उनके देश में कोरोना कंट्रोल करने में उनकी मदद करें। असल में उत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर का असर बहुत कम हो गया है। राज्य में एक्टिव कोविड-19 केसों की संख्या वर्तमान में 1,608 है।

यह भी पढ़ें-  BJP के ई-चिंतन शिविर में जमकर बोले ज्योतिरादित्य सिंधिया, कार्यकर्ताओं को दिया यूं प्रशिक्षण

ऑस्ट्रेलिया के ह्यूजेस से सांसद क्रैग केली ने कहा है काश कोई ऐसा आप्शन होता कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कुछ दिनों के लिए हमें मिल जाते। सांसद क्रैग केली ने ट्वीट करते हुए लिखा, ”भारत का एक राज्य उत्तर प्रदेश, क्या कोई ऐसा ऑप्शन है कि किसी भी मौके पर वे हमें अपना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कुछ दिनों के लिए दे सकते हैं। ताकि वो आइवरमेक्टिन (दवा) की कमी से हमें निकाल सकें। जिसकी वजह से हमारे राज्य में निराशाजनक स्थिति पैदा हो गई है।”

ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रैग केली ने अपने ट्वीट के साथ एक आंकड़ा शेयर किया है। इस आंकड़े में बताया गया है कि भारत के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले राज्य (लगभग 24 करोड़) में पिछले एक महीने में कोरोना वायरस के सिर्फ 1 प्रतिशत मामले सामने आए हैं और 2.5 फीसदी मौतें हुई हैं। ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रैग केली यूपी सीएम योगी के इस कोरोना प्रबंधन की नीति से प्रभावित हैं। क्रैग केली को लगता है कि ऑस्ट्रेलिया में आइवरमेक्टिन दवा की कमी को सीएम योगी मैनेज कर सकते हैं।

ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रैग केली ने 01 जुलाई को भी ट्वीट कर सीएम योगी आदित्यानाथ की तारीफ की थी और यूपी में कोविड मैनेजमेंट की सराहना की थी। क्रैग केली ने ट्वीट किया था, ”भारत का राज्य उत्तर प्रदेश, जहां की जनसंख्‍या 230 मिलियन (23 करोड़) है। लेकिन इसके बावजूद कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट डेल्‍टा पर राज्य में लगाम लगाई गई है। आज के दिन में वहां कोरोना दैनिक केस सिर्फ 128 है, जबकि यूके की जनसंख्‍या 67 मिलियन है और दैनिक केस 20,479 हैं।”

Show More
Back to top button