मध्यप्रदेशहाेम

MP Weather: अगले 24 घंटे में बदलेगा मौसम ! मप्र के इन जिलों में आज बारिश के आसार

मानसून की बेरुखी से परेशान एमपी के लोगों को जल्द राहत की उम्मीद है, उमस और गर्मी कम होगी

Advertisements

भोपाल । मानसून की बेरुखी से परेशान एमपी के लोगों को जल्द राहत की उम्मीद है मध्य प्रदेश की जनता को उमस और गर्मी से राहत मिलने वाली है, अगले 24 घंटे में मौसम (MP Weather) के बदलने वाला है। मौसम विभाग (MP Weather Department) की मानें तो आज बुधवार से वर्षा की गतिविधियों में तेजी आएगी, जिसके चलते शिथिल पड़े मानसून के आगे बढ़ने की संभावना है, ऐसे में एक बार फिर मध्य प्रदेश में झमाझम बारिश का दौर शुरु होने के आसार है। वही 10 जुलाई के बाद तेज बारिश की भी संभावना है। इधर, मौसम विभाग ने आज 7 जुलाई बुधवार को सभी संभागों के जिलों में कही कहीं बारिश के साथ बिजली (Rain) चमकने/गिरने की संभावना जताई है।

यह भी पढ़ें-  NASA का अलर्ट! अब से कुछ देर बाद पृथ्वी के पास से गुजरेगा स्टेडियम जितना बड़ा खतरनाक Asteroid

मौसम विभाग (MP Weather Update) के मुताबिक, गुरुवार को बंगाल की खाड़ी में उत्तरी आंध्र और दक्षिणी ओडिशा तट के बीच हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बनने जा रहा है, इस सिस्टम के 11 जुलाई को कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होने की संभावना है, जिसके चलते मानसून में तेजी आएगी और प्रदेश में फिर झमाझम बारिश का सिलसिला शुरू हाेने के आसार हैं। इसके बाद 10 जुलाई से पूरे मध्य प्रदेश में फिर से मानसून सक्रिय हो जाएगा। इधर, विभाग ने किसान को भी सलाह दी है कि  खरीफ फसल की बोवनी अभी 10 जुलाई तक न करें।

मौसम विभाग (MP Weather Alert) ने आज 7 जुलाई 2021  बुधवार को सभी संभागों इंदौर, रीवा, उज्जैन,  शहडोल, जबलपुर, होशंगाबाद,  भोपाल, सागर,  ग्वालियर-चंबल संभाग के जिलों में कहीं कहीं बौछारों की संभावना जताई हैं। वही रीवा, शहडोल, जबलपुर,  भोपाल, सागर,  होशंगाबाद संभाग के साथ गुना, अशोकनगर, ग्वालियर में बिजली चमकने और गिरने के साथ 18 प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने के भी आसार है।वही दिल्ली सहित पूरे उत्तर पश्चिमी भारत में भी बारिश गतिविधियां बढ़ने की संभावना है।

भारतीय मौसम विभाग (MP Weather Forecast) के अनुसार, 7 जुलाई को अंडमान एंड निकोबार, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, तटीय कर्नाटक, उत्तर आंतरिक कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल, माहे और लक्षद्वीप के अधिकतर इलाकों में बारिश की संभावना है।उत्तर-पश्चिम भारत के राज्यों में भी 9 जुलाई से कई स्थानों पर बारिश शुरू होने की संभावना है। हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश में 9 जुलाई तथा पूर्वी राजस्थान में 10 से जुलाई से एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून 10 जुलाई के आसपास पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शेष भागों के साथ-साथ दिल्ली पहुंचने की संभावना है।

Show More
Back to top button