मध्यप्रदेशहाेम

नर्मदा नदी में खड़े होकर फेसबुक लाइव कर रहे तीन किशोर डूबे, एक का शव मिला

नर्मदा नदी में खड़े होकर फेसबुक लाइव कर रहे तीन किशोर डूबे, एक का शव मिला

Advertisements

होशंगाबाद। कलेक्ट्रेट के पीछे स्थित हर्बल पार्क घाट पर स्नान करने पहुंचे तीन किशोर हादसे का शिकार हो गए। नर्मदा के गहरे पानी में अचानक तीनों किशोरों का संतुलन बिगड़ गया जिसके कारण वे गिर गए। दो किशोर डूब गए जबकि एक को होमगार्ड जवानों ने बचा लिया गया है। बताया जा रहा है कि तीनों किशोर नर्मदा में नहाते समय फेसबुक लाइव कर रहे थे तभी हादसा हो गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राज पिता दीपक ठाकुर16 वर्ष निवासी मारूति नगर रसूलिया, नाम्या पिता संतोष गौर 15 वर्ष निवासी गोकुलधाम रसूलिया, और दक्ष पिता सीवी खरे मारुति नगर रसूलिया हर्बल पार्क घाट पर पहुंचे थे। राज और नाम्या डूब गए जबकि दक्ष को बचाया गया है। घटना की जानकार लगने के बाद होमगार्ड अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। हर्बल पार्क में आए दिन हो रही घटनाओं के बाद भी सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए गए हैं। हर्बल पार्क में रोजाना लोग पहुंच रहे हैं। यहां पर चेतावनी बोर्ड भी लगाया गया था, लेकिन ऐसी जगह पर लगाया गया कि किसी को दिखाई भी नहीं देता था, अब यह गायब हो चुका है।

यह भी पढ़ें-  आत्मा लेने पहुंचे 100 से अधिक लोग, दुर्घटना में हुई थी शख्स की मौत, फिर क्या हुआ ?

चोर रेत बनी हादसे का कारण

घटना के प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि तीनों किशोर हर्बल पार्क घाट पर राज, नाम्या और दक्ष एक साथ स्नान करने के लिए अाए थे। इसी दौरान तीनों किशोर गहरे पानी के पास खड़े होकर फेसबुक लाइव करने लगे। अचानक राज का संतुलन बिगड़ा और उसे पकड़ कर खड़े दक्ष आैर नाम्या का भी संतुलन गड़बड़ा गया। तीनों किशोर जब तक संभल पाते गहरे पानी में गिर चुके थे। तीनों में से किसी को तैरना नहीं आता था। वहां मौजूद लोगों ने कुछ लोगों ने बचाने की कोशिश की। जैसे तैसे दक्ष को बचाया गया, लेकिन तब तक राज और नाम्या का दिखना बंद हो गया था।

होमगार्ड सैनिकों ने चलाया रेस्क्यू ऑपरेशन

घटना की जानकारी लगने के बाद तुरंत ही होमगार्ड सैनिक हर्बल पार्क घाट पर पहुंचे और रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद राज का शव बरामद किया गया, लेकिन नाम्या का कोई पता नहीं चल सका है। प्राप्त जानकारी के अनुसार राज ठाकुर के पिता पुलिस में प्रधान आरक्षक हैं व पुलिस मुख्यालय भोपाल में पदस्थ हैं। जबकि दक्ष के पिता बैंक कर्मी है। वहीं नम्या के पिता किसानी कर्य करते हैं। घटना की जानकारी लगने के बाद बड़ी संख्या में लोग घाट पर पहुंच गए थे।

सतकुंडा में भी किया था फेसबुक लाइव

पुलिस ने बचाए गए किशोर दक्ष से जानकारी ली है। तीनों दोस्तों ने सुबह सतकुंडा जाने का प्लान बनाया था। बुधनी स्थित सतकुंडा में पहुंचे और यहां भी फेसबुक लाइव किया था। काफी देर रुकने के बाद तीनों एक साथ हर्बल पार्क घाट पर आ गए और यहां स्नान करने लगे। कुछ देर तक तो तीनों नर्मदा नदी के किनारे पर रेत में खड़े थे, लेकिन गहरे पानी को रिकार्ड करने के लिए आगे बढ़ गए इसी दौरान हादसा हो गया।

Show More
Back to top button