जरा हट के

तोते ने दी गवाही अमेरिकी कोर्ट ने पत्नी को ठहराया दोषी

वॉशिंगटन। अमेरिका में हत्या के मामले में एक अनोखे गवाह ने ऐसी बात बताई, जिससे मामला आसानी से खुल गया। अफ्रीकन ग्रे पैरेट की गवाही के आधार पर कोर्ट ने पति की हत्या के लिए पत्नी को दोषी ठहराते हुए फैसला सुनाया।
तोते ने महिला और पुरुष की आवाज में बारी-बारी से बोलकर दोनों के बीच हुए आखिरी संवाद को कोर्ट में बताया। हालांकि, शुरूआत में कोर्ट में यह बात उठ रही थी कि क्या तोते बड की गवाही को सही माना जाए या नहीं। मगर, जिस तरह उसने पति-पत्नी के बीच हुए आखिरी संवाद को महिला और पुरुष की आवाज में सुनाया, उसे देखकर कोर्ट इस बात पर राजी हो गई कि पत्नी ने ही पति पर गोली चलाई थी।
मिशीगन के सैंड लेक स्थित एक घर में ग्लेन्ना दुरम ने साल 2015 में अपने पालतू तोते के सामने पति मार्टिन पर गोली चलाई थी। ग्लेन्ना ने मार्टिन को पांच गोलियां मारने के बाद खुद को भी गोली मारकर आत्महत्या की कोशिश की थी। हालांकि, वह बच गई। इस अपराध के दौरान घर में सिर्फ बड ही मौजूद था।
बड ने बाद में घरवालों को मार्टिन की आखिरी बात को बोलकर सुनाया था। कोर्ट में सुनवाई के दौरान मार्टिन की पहली पत्नी क्रिस्टिना केलर ने कोर्ट को तोते की बात वीडियो में रिकॉर्ड कर दिखाया। उसने जूरी से कहा कि जब हम घर पहुंचे तो तोते ने मार्टिन की आवाज में बार-बार कहा, ‘गोली मत चलाओ’। इस आधार पर जूरी ने पाया कि ग्लेन्ना हत्या की दोषी हैं। उसे अगले महीने सजा सुनाई जाएगी।
हालांकि, तोते को कोर्ट में सुनवाई के दौरान नहीं लाया गया। वकील ने गवाह के तौर पर तोते को पेश करने की अनुमति कोर्ट से मांगी थी, लेकिन इसे खारिज कर दिया गया।
फैसले के दौरान कोर्ट में मौजूद मार्टिन की मां लिलियन ने कहा कि कोर्ट में ग्लेन्ना को देखकर बहुत दुख हो रहा था कि दोषी ठहराई जाने के बाद भी उसे कोई पछतावा नहीं था। ग्लेन्ना को इस मामले में अगस्त में उम्र कैद की सजा हो सकती है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button