राष्ट्रीयविदेशहाेम

Cyclone Yass: अब चक्रवात Yass, अगले हफ्ते तक बंगाल व ओडिशा में देगा दस्तक; IMD का पूर्वानुमान

Fani), 2020 में एंफन (Amphan), 2021 में टाक्टे (Tauktae) और अब याश (Yass)।मौसम विभाग  ने मछुआरों को 23 मई को समुद्र में न  जाने की चेतावनी दी जा चुकी है।

Advertisements

नई दिल्ली। अभी टाक्टे चक्रवाती तूफान से देश के प्रभावित इलाके उबर भी नहीं पाए हैं और मौसम विभाग ने एक और चक्रवात तूफान का पूर्वानुमान जारी कर दिया।

साथ ही चेतावनी जारी कर दी है कि  मौसम विभाग ने इसे  शक्तिशाली  साइक्लोन करार दिया है जो अगले सप्ताह  23-25 मई के बीच पश्चिम बंगाल  और ओडिशा पहुंचेगा।

 देश के पश्चिमी तट (west coast) पर आए टाक्टे के बाद 26-27 मई को एक नया चक्रवात पूर्वी तट से टकराने वाला है। यह जानकारी भारतीय मौसम विभाग  (IMD) ने बुधवार को दी।

IMD के अनुसार उत्तरी अंडमान सागर व इससे जुडे बंगाल की खाडी में 22 मई के करीब कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके बाद 72 घंटों के दौरान यह चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा। यह 26 मई की शाम तक पश्चिम बंगाल-ओडिशा तट से टकराएगा।’

 मछुआरों को दी गई चेतावनी

वर्ष 2019 में फानी ( Fani), 2020 में एंफन (Amphan), 2021 में टाक्टे (Tauktae) और अब याश (Yass)।मौसम विभाग  ने मछुआरों को 23 मई को समुद्र में न  जाने की चेतावनी दी जा चुकी है। विभाग के अधिकारियों ने जानकारी दी कि कम दबाव बनने से कोलकाता, दक्षिण और उत्तर 24 परगना समेत गंगीय पश्चिम बंगाल के इलाकों में तापमान बढ़ रहा है।

 

बंगाल, ओडिशा, मेघालय व असम में दिखेगा असर

25 मई तक इस नए चक्रवात के कारण ओडिशा (Odisha), पश्चिम बंगाल (West Bengal) और इससे जुडे असम (Assam) और मेघालय (Meghalaya) में बारिश हो सकती है। इनमें से कई जगहों पर भारी बारिश की संभावना है। बारिश की तीव्रता लगातार बढेगी।

ऐसी जानकारी IMD ने दी। मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिमी तट विशेषकर गुजरात और महाराष्ट्र में अभी तक टाक्टे का नुकसान  दिख रहा है। मानसून से पहले अप्रैल-मई में आमतौर पर पूर्वी व पश्चिमी तट पर  चक्रवात बनता है।

पिछले साल मई में ही दो साइक्लोन- सुपर साइक्लोन एंफन और निसर्ग पश्चिमी और पूर्वी तट से टकराया था।

 

अम्फान से अधिक शक्तिशाली होगा यह चक्रवात 

मौसम विभाग के अनुसार, अगले सप्ताह  बंगाल की खाड़ी में आने वाला यह चक्रवात सुंदरबन के आस-पास अपना प्रभाव दिखाएगा। इसके बाद यह बांग्लादेश की ओर बढेगा।

मौसम विभाग के अनुसार पिछले साल इसी मई माह के दौरान बंगाल व आसपास के इलाकों में अम्फान तूफान ने तबाही मचाई थी लेकिन इस साल यह तूफान कहीं अधिक शक्तिशाली है।

अरब सागर में आए टाक्टे ने  गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा और कर्नाटक के तटीय इलाकों को तबाह कर दिया। गुजरात में तूफान टाक्टे के कारण कल 43 लोगों के मारे जाने की खबर थी वहीं महाराष्ट्र में 6 लोगों की जान चली गई।

यह भी पढ़ें-  CBSE और ICSE की 12वीं की मूल्यांकन स्कीम सही: सुप्रीम कोर्ट
Show More
Back to top button