ज्ञानराष्ट्रीयविदेशहाेम

WhatsApp यूजर्स को देगा सौगात, Bitcoin जैसी डिजिटल करंसी से कर सकेंगे खरीदारी

Advertisements

नई दिल्‍ली facebook digital currency libra । दुनिया की दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी Facebook जल्द ही अपनी डिजिटल करंसी (Digital Currency) लांच करने वाली है।

सूत्रों के मुताबिक फेसबुक ने पहले इस डिजिटल करेंसी का नाम लिब्रा (Libra) तय किया था, लेकिन अब Facebook Cryptocurrency का नाम Diem तय हो सकता है। फेसबकु यह Cryptocurrency इसी साल लांच कर सकती है।

फेसबुक के अनुसार इस डिजिटल करंसी Diem को न केवल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उपयोग किया जा सकेगा, बल्कि E commerce को भी बढ़ावा मिलेगा। इस डिजिटल करेंसी के जरिए लोग ज्यादा कमाई कर सकेंगे।

हालांकि इस समय Cryptocurrency Bitcoin की कीमत काफी नीचे है और बिटकाइन में निवेशकों को बड़ा झटका लगा है।

डिजिटल करेंसी में 28 कंपनियों की पार्टनरशिप

शुरुआती खबर यह थी कि Facebook ने डिजिटल करेंसी Libra के लिए पेपाल, Uber सहित दुनियाभर की करीब 28 कंपनियों के साथ पार्टनरशिप की है। Libra की लॉन्चिंग में फेसबुक लगातार सक्रिय रही। क्रिप्टोकरंसी लाने के लिए फेसबुक कानूनी प्रक्रिया भी पूरी कर चुका है।

डाटा प्राइवेसी के विवादों में कई आलोचनाओं के झेल रही Facebook का कहना है कि यह यूजर की बैंक डिटेल और पेमेंट संबंधित सारा डेटा सेफ रखेगा।

ऑनलाइन लेन-देन होगा ज्यादा आसान

Facebook का कहना है कि Diem ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर काम करेगी और पैसों का ट्रांजेक्शन आसानी से कर सकेंगे। Facebook के मुताबिक ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर आधारित डिजिटल पेमेंट सर्विस इसी साल आ सकती है।

Blockchain को फेसबुक के सभी प्लेटफार्म मैसेंजर, WhatsApp और इंस्टाग्राम पर उपयोग किया जा सकता है। साथ ही फेसबुक यह दावा कर रहा है कि इसमें यूजर का डेटा सुरक्षित रहेगा।

फेसबुक डिजिटल वॉलेट ऐप से डिजिटल करंसी ट्रांजेक्शन को ट्रैक कर सकेंगे।

– डिजिटल करेंसी के ट्रांजेक्शन पर एक्सट्रा चार्ज नहीं।

– क्रिप्टोकरेंसी Diem को खरीदने और बेचने की भी सुविधा होगी।

जानिए किसे कहते हैं डिजिटल करेंसी

Digital currency को ही क्रिप्टोकरेंसी भी कहा जाता है। दरअसल ये एक तरह की वर्चुअल करेंसी होती है। डिजिटल करेंसी धारक इसे रुपए, डॉलर या किसी अन्य मुद्रा के समान छू नहीं सकता है। इसका मतलब यह है कि Cryptocurrency को प्रिंट नहीं किया जा सकता है। इस करेंसी का इस्तेमाल सिर्फ ट्रांजेक्शन के लिए किया जा सकता है। दुनिया की किसी भी सरकार या बैंक का इस करेंसी पर नियंत्रण नहीं रहता है और इसका इस्तेमाल सामान या किसी भी तरह की सेवा खरीदी के लिए किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें-  बिजली घर के बाहर खटिया बिछाकर लेट गए ऊर्जा मंत्री, कहा-लाइट आएगी तभी उठूंगा
Show More
Back to top button