मासूम की जान का दुशमन बना पड़ोसी ,फेंकी कूएं में लाश

Advertisements

कटनी। (विवेक शुक्ला) कोतवाली के गांधीगंज क्षेत्र से कल बुधवार की शाम घर के बाहर से रहस्यमय तरीके से लापता हुए एक 4 वर्षीय मासूम बालक कृष्णा की खिरहनी ओवर ब्रिज के पास सावरकर वार्ड स्थित कुएं से लाश बरामद होने के साथ ही मामले में हत्या की सनसनीखेज वारदात का खुलासा हुआ है। कृष्णा की तलाश के दौरान पुलिस को जब यह जानकारी लगी कि क्षेत्र का ही एक 16 वर्षीय किशोर एक माह पूर्व भी कृष्णा को इसीतरह घुमाने ले जाकर खिरहनी ओवर ब्रिज में छोड़ आया था। लिहाजा परिजनों के द्धारा दी गई इस जानकारी के बाद पुलिस ने तत्काल किशोर को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ शुरू की। प्रारंभिक पूछताछ में तो किशोर पुलिस को गोलमोल जबाब देकर गुमराह करता रहा लेकिन जब उससे कड़ाई से पुलिसिया अंदाज में पूछताछ की गई तो उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया तथा कृष्णा को घर के बाहर से घुमाने के बहाने ले जाकर उसकी गलाघोंट कर हत्या करने के बाद लाश को खिरहनी ओवर ब्रिज के पास सावरकर वार्ड स्थित एक कुएं में फेंकने की सनसनीखेज जानकारी पुलिस को दी।

बहरहाल किशोर से पूछताछ के बाद पुलिस गोताखोरों की मदद से कृष्णा की लाश को कुएं से बाहर निकालने का प्रयास कर रही है। बारिश के मौसम में कुएं में पानी अधिक होने की वजह से लाश को बाहर निकालने में गोताखोरों को भी मशक्कत करनी पड़ रही है। समाचार लिखे जाने तक कृष्णा की लाश कुएं से नहीं निकाली जा सकी थी।इस सनसनीखेज हत्या की वारदात के संबंध में हासिल जानकारी के मुताबिक गांधीगंज क्षेत्र निवासी राजेश गुप्ता का 4 वर्षीय पुत्र कृष्णा कल बुधवार की देरशाम मकान के बाहर खेलते-खेलते रहस्यमय ढंग से लापता हो गया। पहले तो परिजन कृष्णा की आसपास पड़ोस में खोजखबर लेते रहे लेकिन जब उसका कहीं कुछ पता नहीं चला तो उनके द्धारा कृष्णा के लापता होने की जानकारी पुलिस को दी गई। बताया जाता है कि मामले को कोतवाली प्रभारी शैलेष मिश्रा ने गंभीरता से लिया और जानकारी लगते ही उसकी तलाश में जुट गए। इसी दौरान परिजनों ने पुलिस को यह भी बताया कि लगभग एक माह पूर्व पड़ोस में ही रहने वाला 16 वर्षीय र’जन(काल्पनिक नाम) नामक किशोर कृष्णा को घुमाने के बहाने ले जाकर खिरहनी ओवर ब्रिज में छोड़ आया था। परिजनों की इस जानकारी के बाद पुलिस ने बिना देर किए र’जन को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ शुरू की। र’जन प्रारंभिक पूछताछ में तो पुलिस को गोलमोल जबाब देकर गुमराह करता रहा लेकिन जब उससे पुलिसिया अंदाज में कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने कृष्णा की हत्या कर लाश को कुएं में फेंकना स्वीकार कर लिया। जिसके बाद पुलिस उसको साथ लेकर सावरकर वार्ड के उस कुएं पर पहुंच गई। जिसमें कृष्णा की लाश फेंकी गई थी। पुलिस व गोताखोर दल के सदस्य कुएं से कृष्णा की लाश को बाहर लाने के प्रयास कर रहे हैं लेकिन बारिश के मौसम में कुएं में 20 फीट के लगभग पानी होने की वजह से गोताखोर दल को लाश की तलाश में भारी मशक्कत करनी पड़ रही है।

                                      
बहन से एकतरफा प्यार बना हत्या का कारण
एक जानकारी में पुलिस सूत्रों ने बताया कि कृष्णा की हत्या कर उसकी लाश को कुएं में फेंकने वाला आरोपी नाबालिग किशोर कृष्णा की बहन से एकतरफा प्यार करता था। इसी एकतरफा प्यार के चक्कर में कृष्णा की बहन को भी प्यार में सहमति देने के लिए उसने एक माह पूर्व भी कृष्णा का अपहरण कर उसे खिरहनी ओवर ब्रिज में छोड़ आया था। इसके बावजूद भी जब उसकी बात नहीं मानी गई तो कलरात उसने कृष्णा का अपहरण करने के बाद उसको मौत के घाट उतार कर लाश को कुएं में फेंक दिया।
इकलौता पुत्र था कृष्णा
बताया जाता है कि गांधीगंज निवासी राजेश गुप्ता के एक ही पुत्र कृष्णा था तथा उससे बड़ी उसकी बहन थी। कृष्णा क्षेत्र में ही स्थित एक स्कूल में केजी-2 का छात्र था। कृष्णा के पिता राजेश कुछ नहीं करता था जबकि उसकी मां घरों में काम करके परिवार का पालन पोषण करती थी। कृष्णा की मौत के बाद मां व बहन को रो-रो कर बुरा हाल है तथा वो रोते हुए आरोपी किशोर को कड़ी से कड़ी सजा दिए जाने की भी मांग कर रहे हैं। जिसने उनके परिवार का इकलौता पुत्र छीन लिया।
जबलपुर से बुलाया आक्सीजन गोताखोर दल
कोतवाली प्रभारी शैलेष मिश्रा ने बताया कि बारिश का मौसम होने की वजह से कुआं पानी से लबालब है तथा उसमें 20 फीट के लगभग पानी है। जिसकी वजह से स्थानीय होमगार्ड के गोताखोर दल को लाश बाहर निकालने में भारी परेशानी हो रही है। इसलिए अब पुलिस ने जबलपुर से आक्सीजन सिलेण्डर से लैस गोताखोर दल को बुलवाया है। जबलपुर से गोताखोर दल के पहुंचते ही लाश को कुएं से बाहर निकालने के प्रयास शुरू किए जाएंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Notifications    OK No thanks