AppsTechगैजेटहाेम

Whatsapp को टक्कर देने Google ने लाया चैटिंग एप, ऐसे करें उपयोग

Advertisements

नई दिल्ली। दुनियाभर में इंस्टैंट मैसेजिंग के लिए आमतौर पर WhatsApp ऐप एक चर्चित नाम है, लेकिन अब इसे कई इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप से टक्कर मिल रही है। व्हाट्सअप को टक्कर देने वालों में अब Google का नाम भी जुड़ गया है। WhatsApp बीते कुछ समय से अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी के कारण विवादों में है और कई लोगों ने नाराजगी के चलते WhatsApp छोड़ भी दिया है। ऐसे में कई कंपनियां इस मौके का फायदा उठाने में लगी हुई है। इंस्टैंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म Telegram की तरफ से खुद को मुकाबले में पहले ही पेश कर दिया है, लेकिन अपेक्षित सफलता नहीं मिली। लेकिन अब Google की तरफ से WhatsApp और Telegram की टक्कर में Gmail ऐप में एक शानदार Chating फीचर दिया गया है।

यह भी पढ़ें-  School Reopen in MP मध्य प्रदेश में इस फॉर्मूले पर एक जुलाई से खुल सकते हैं स्कूल

Gmail यूजर एंड्राइड और iOS डिवाइस में Google चैट ऐप को इंटीग्रेट कर सकते हैं। यानि जीमेल में यूजर्स को अब मेल के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए Meet और Room का सपोर्ट दिया जाएगा और Gmail का चैट ऐप Google Workpace यूजर्स के लिए उपलब्ध था, जिसे पर्सनल एकाउंट के लिए भी उपलब्ध कराया जा रहा है। आसान शब्दों में इसे समझा जाए तो यूजर्स को अब ऐप के निचले हिस्से में 4 टैब मिलेंगे। गूगल के इस इंस्टैंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के आने के बाद यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि नए चैटिंग फीचर को रोलआउट करने के बाद गूगल Hangouts ऐप को बंद कर सकता है। अभी तक Gmail यूजर्स hangout के जरिए चैटिंग करते थे।

यह भी पढ़ें-  जॉब में पांच साल लगातार रहे तो PF से पैसा निकालने में नहीं लगेगा ब्याज

ऐसे करें उपयोग

– यूजर को Google Play Store और iOS यूजर्स को Apple App स्टोर पर जाना होगा।
– ऐप अपडेट होने के बाद यूजर्स को Gmail खोलना होगा, जहां टॉप लेफ्ट स्क्रीन पर सैंडविच बटन पर क्लिक करना होगा। इससे साउंडबार ऑप्शन OPEN हो जाएगा।

 

– इसके बाद स्क्रॉल डाउन करके Setting option में जाना होगा। यहां अपने पर्सनल एकाउंट को select करना होगा।
– यहां Chat ऑप्शन दिखेगा, जिसे एनेबल करना होगा।
– इसके बाद Gmail ऐप को रिस्टार्ट कर दें।
– फिर Gmail ऐप के बॉटम में चैटिंग ऑप्शन दिखने लगेगा, जहां यूजर्स आसानी से चैटिंग कर पाएंगे।

यह भी पढ़ें-  बड़ी खबर: तो मध्य प्रदेश में जल्द हो सकते हैं नगर निकाय चुनाव, ये है कारण
Show More
Back to top button