राष्ट्रीय

बस्तियों में संक्रमित घरों में ABVP करवा रहा है सैनिटाइजेशन

Advertisements

भोपाल। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद(एबीवीपी) भोपाल महानगर द्वारा आरोग्य अभियान के तीसरे दिन भोपाल शहर की कुल 1700 घरों में दस टीमों के द्वारा स्वास्थ सर्वेक्षण किया जा चुका है। इसमें प्रमुख रूप से हबीबगंज नाका,अयोध्या नगर ,बंजारन बस्ती समेत दस बस्तियों में लोगों के घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग एवं ऑक्सीजन की जांच की गई। अभियान के दौरान जिन लोगों में संक्रमण के हल्के लक्षण पाए गए उन्हें कोरोना किट प्रदान की गई।

पहले दिन 400 घरों तक पहुंचा था। दूसरे दिन 700 घरों तीसरे दिन 600 घरों तक पहुंचा। अभी तक कुल 1700 घरों तक स्वास्थ्य सर्वेक्षण किया जा चुका है।बस्तियों में स्वास्थ्य सर्वेक्षण के साथ-साथ विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता जिन घरों में कोई व्यक्ति संक्रमित पाया गया है। उन घरों में अन्य व्यक्ति संक्रमित ना हो इसके लिए नगर निगम प्रशासन से आग्रह करके बस्तियों के घरों में सैनिटाइजेशन भी किया जा रहा है। इसके साथ-साथ विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता घरवालों से यह भी आग्रह करते हैं कि संक्रमित हुए व्यक्ति को घर पर ही किसी एक कमरे में आइसोलेट करके रखें। कोरोना रोकथाम के लिए जो भी चीजें आवश्यक हैं वह सभी वह घर वालों को बताते हैं। विद्यार्थी परिषद के इस अभियान में छात्रों के साथ-साथ छात्राएं भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहीं हैं। आपदा के इस दौर में जहां देखने में आया कि लोग अपने घरों से निकलने में डर रहे हैं वहीं विद्यार्थी परिषद के आरोग्य अभियान में छात्राएं अपनी अहम भूमिका निभा रही व बस्तियों में जाकर स्वास्थ्य सर्वेक्षण करने का काम कर रही हैं।

यह भी पढ़ें-  बड़ा फैसला: 31 जुलाई तक सभी बोर्ड मूल्यांकन नीति के आधार पर जारी करें परिणाम, सुप्रीम कोर्ट ने दिए आदेश

बस्तियों में का.ढा वितरित किया जा रहा है

एबीवीपी भोपाल द्वारा दस दिनों तक चलाए जाने वाले इस अभियान में परिषद के कार्यकर्ता आज बस्तियों में लोगों को काढ़ा भी वितरित किया। अभी देखने में यह आया है कि वर्तमान समय में लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं और उनके गले में खराश सर्दी जुखाम की समस्या सामने आ रही है, इसलिए विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने दवाइयों के साथ काढ़े का भी वितरण किया। विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता लोगों से यह आग्रह कर रहे हैं की वे अनावश्यक रूप से बाहर ना निकलने, अपने हाथों को लगातार साबुन और साफ पानी से धोने,मास्क लगाने, शारीरिक दूरी बनाकर रखने, पौष्टिक भोजन लेने तथा अपनी बारी आने पर वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। अभियान के दौरान देखने में आया है कि लोग वैक्सीनेशन को लेकर भ्रमित हैं लोगों के अंदर वैक्सीनेशन को लेकर एक डर बना हुआ है । इस दौरान विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने वैक्सीनेशन के महत्व को लोगों को समझाया वैक्सीनेशन करवाने का आग्रह किया। विद्यार्थी परिषद के प्रांत सहमंत्री प्राची शर्मा ने बताया कि आरोग्य अभियान के माध्यम से अभाविप बस्तियों में जागरूकता अभियान कोविड-19 को लेकर चला रही है। बस्तियों में रहने वाले लोगों को सामान्य परामर्श उपलब्ध कर रहे हैं, जिससे उन्हें घर से बाहर ना जाना पड़े एवं उन्हें घर में ही दवाइयां उपलब्ध है। इस अभियान में थर्मल स्क्रीनिंग एवं ऑक्सीजन लेवल की जांच की जा रही है। उनके अनुसार उन्हें परामर्श दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें-  जम्मू-कश्मीर पर पीएम मोदी की अहम बैठक से पहले पाकिस्तान में हलचल बढ़ी, इमरान खान ने उठाया यह कदम
Show More
Back to top button