खेल

85 साल के टेस्ट इतिहास में यह रिकॉर्ड बनाने वाले पहले भारतीय बने हार्दिक पांड्या

खेल डेस्क : वन-डे क्रिकेट में शानदार बल्लेबाजी और गेंदबाजी की बदौलत टेस्ट टीम में जगह बनाने के बाद पहले ही मैच में 50 रनों की आक्रामक पारी खेलने वाले भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में शानदार शतक जड़ दिया है. गॉल टेस्ट की पहली पारी में हार्दिक पांड्या ने आठवें नम्बर पर खेलते हुए ताबड़तोड़ अर्धशतक जमाया था. उन्होंने इसमें तीन गगनचुम्बी छक्के जमाते हुए दर्शकों को भी टी20 का की याद दिला दी. भारत ने मैच की पहली पारी में 600 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था. मेजबान टीम को मैच में 304 रनों की बड़ी शिकस्त झेलनी पड़ी थी.अब एक बार फिर पाल्लेकेले में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन हार्दिक पांड्या ने बेहतरीन पारी खेलते हुए टेस्ट करियर का पहला शतक जड़ा है. भारतीय पारी का यह दूसरा शतक है. एक वक्त था जब लग रहा था कि टीम इंडिया 400 रन के पार नहीं जा पाएगी. लेकिन पांड्या ने अपनी शानदार बल्लेबाजी का नमूना पेश करते हुए इस नामुमकिन कारनामे को मुमकिन करके दिखाया है. हार्दिक पांड्या ने 93 गेंदों में 108 रनों की नाबाद पारी खेल चुके हैं. पांड्या ने 86 गेंदों में अपना शतक पूरा किया. 108 रनों की अपनी इस शतकीय पारी में पांड्या ने 8 चौके और 7 छक्के जड़े. इसके साथ ही पांड्या ने अपने नाम टेस्ट क्रिकेट का एक ऐसा रिकॉर्ड कर लिया है, जो आजतक कोई भारतीय खिलाड़ी नहीं कर पाया है. पुष्पकुमारा के एक ओवर में पांड्या ने दो चौके और तीन छक्के जड़े. इस ओवर से 26 रन आए. ये अब तक भारतीय टेस्ट क्रिकेट का एक ओवर का अधिकतम स्कोर है. बता दें कि आज तक कोई भारतीय खिलाड़ी 25 से ज्यादा रन नहीं बना पाया है.

AD

AD
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button