राष्ट्रीय

रुचि सोया खरीदेगी Patanjali की बिस्किट कंपनी, 60 करोड़ रुपये में हुई डील

रुचि सोया ने पतंजलि बिस्किट के कारोबार को खरीदने का ऐलान किया है। इन दोनों की कंपनियों के मालिक बाबा रामदेव ही हैं।

Advertisements

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि (Patanjali) के बिस्किट कारोबार को रुचि सोया इंडस्ट्रीज (Ruchi Soya Industries) ने खरीद लिया है। रुचि सोया इंडस्ट्रीज ने मंगलवार को घोषणा की है कि वह पतंजलि के बिस्किट बिजनेस पतंजलि नेचुरल बिस्किट प्राइवेट लिमिटेड का अधिग्रहण करनेवाली है। यह सौदा 60.02 करोड़ रुपये में तय हुआ है। कंपनी के मुताबिक 10 मई को बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने बिजनेस ट्रांसफर एग्रीमेंट पर साइन भी कर दिया है। अगले दो महीनों में अधिग्रहण पूरा हो जाएगा। रुचि सोया के मुताबिक, करीबन 15 करोड़ रुपए डील के बंद होने की तारीख तक दिया जाएगा। जबकि 45 करोड़ रुपए का भुगतान डील क्लोज होने की तारीख से 90 दिनों के अंदर किया जाएगा। इस ट्रांजेक्शन में कांट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग एग्रीमेंट के साथ कर्मचारियों का ट्रांसफर, असेट्स, वर्तमान सेट्स और देनदारी, लाइसेंस और परमिट आदि शामिल होंगे।

यह भी पढ़ें-  जम्मू-कश्मीर पर पीएम मोदी की अहम बैठक से पहले पाकिस्तान में हलचल बढ़ी, इमरान खान ने उठाया यह कदम

कंपनी के मुताबिक यह डील उनकी आगे की रणनीति को सपोर्ट करेगी, जिसमें FMCG सेक्टर एक बड़ा प्लेयर बनने का योजना शामिल है। रुचि सोया भारत में न्यूट्रीला, महाकोश, रुचि गोल्ड, रुचि स्टार और सनरिच जैसे ब्रांड के साथ मार्केट में है। आपको बता दें कि पतंजलि बिस्किट और रुचि सोया दोनों ही बाबा रामदेव की ही कंपनी हैं। पतंजलि की शुरुआत बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने 2006 में की थी। बाबा रामदेव इसके को-फाउंडर हैं। वैसे इस कंपनी की 99.6 फीसदी हिस्सेदारी आचार्य बालकृष्ण के पास है।

यह भी पढ़ें-  Twitter इंडिया के MD को बड़ी राहत, कोर्ट ने कहा- थाने जाने की जरुरत नहीं, ऑनलाइन पूछताछ करे UP पुलिस

वहीं कर्ज में डूबी कंपनी रुचि सोया को बाबा रामदेव (पतंजलि आयुर्वेद) ने साल 2019 में खरीदा था। इसके लिए पतंजलि आयुर्वेद को 3200 करोड़ रुपये का कर्ज भी लेना पड़ा था। बाबा रामदेव रुचि सोया में नॉन-एग्जिक्युटिव नॉन-इंडिपेंडेंट डायरेक्टर हैं। कुल मिलाकर ये कंपनी का पोर्टफोलियो बेहतर बनाने की कोशिश है। आपको बता दें कि पतंजलि प्राकृतिक बिस्कुट प्राइवेट लिमिटेड (PNBPL) ने साल 2019-20 में करीब 450 करोड़ का बिजनेस किया था।

यह भी पढ़ें-  बड़ा फैसला: 31 जुलाई तक सभी बोर्ड मूल्यांकन नीति के आधार पर जारी करें परिणाम, सुप्रीम कोर्ट ने दिए आदेश
Show More
Back to top button