ज्ञानमध्यप्रदेशराष्ट्रीयहाेम

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, अब 31 मई तक मिलेगा इस सरकारी स्कीम का फायदा

31 मई तक के लिए बढ़ा दी है। अब केन्द्रीय कर्मचारी 31 मई तक स्कीम में सभी बिल जमा कर सकते हैं। पहले ये सुविधा 30 अप्रैल तक थी।

Advertisements

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, अब 31 मई तक मिलेगा इस सरकारी स्कीम का फायदा
अब केन्द्रीय कर्मचारी 31 मई तक LTC स्कीम में सभी बिल जमा कर सकते हैं। पहले ये सुविधा 30 अप्रैल तक थी।
LTC Special Cash Package: कोरोना महामारी के चलते केन्द्र सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को इस महीने बड़ी छूट दी है। सरकार ने LTC कैश वाउचर स्कीम 31 मई तक के लिए बढ़ा दी है। अब केन्द्रीय कर्मचारी 31 मई तक स्कीम में सभी बिल जमा कर सकते हैं। पहले ये सुविधा 30 अप्रैल तक थी।

Corona महामारी के कारण साल 2020 में लॉकडाउन के कारण केंद्रीय कर्मचारी LTC क्लेम नहीं कर पा रहे थे। इस वजह से सरकार ने यह योजना शुरू की थी। इस स्कीम के तहत कर्मचारी को यात्रा भत्ता के बजाय नकद पेमेंट मिलेगा। फाइनेंस मिनिस्‍टर निर्मला सीतारामण का कहना था कि इस स्कीम से सरकारी कर्मचारी की जेब में ज्यादा पैसा आएगा और वह उसे खर्च भी करेगा। इस खर्च का फायदा इकोनॉमी को होगा।

यह भी पढ़ें-  नरेंद्र गिरि की मौत से जुड़ा एक और वीडियो आया सामने, शव फंदे पर तो कैसे चलता रहा पंखा

2021 के बजट में ऐलान

सरकार ने साल 2021 के बजट में यह स्कीम नोटिफाई की है। टैक्‍स जानकारों के अनुसार इसका फायदा प्राइवेट इम्‍प्‍लाईज को भी मिलेगा। हालांकि पहले इसका फायदा सिर्फ केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को मिल रहा था। इससे LTC पेमेंट टैक्‍स फ्री हो गया है। LTC का पैसा कर्मचारियों को हर 4 साल में मिलता है। इससे वह देश में कहीं भी सालभर में एक बार यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा उन्हें अपने परिवार के साथ दो बार अपने घर जाने का मौका मिलता है। कोरोना के कारण जो लोग इस LTC का फायदा नहीं उठा पाए, उन कर्मचारियों को LTC कैश वाउचर स्कीम का फायदा दिया जा रहा है।

LTC से क्या फायदा होगा

LTC के बदले कर्मचारियों को Cash पैसा मिलेगा। कर्मचारी के ओहदे के हिसाब से उसे पेमेंट किया जाएगा। हालांकि कर्मचारी को किराए का 3 गुना 31 मार्च 2021 से पहले खर्च करना होगा, लेकिन पेमेंट 31 मई तक मिलेगा। कर्मचारियों को GST रजिस्टर्ड वेंडर या व्यापारी से ही सेवाएं या वस्तुओं की खरीद करनी होगी। इसके अलावा LTC क्लेम करते समय कर्मचारी को GST रसीद भी देनी होगी।

Show More
Back to top button