मध्यप्रदेश

Indore Crime News: नकली रेमडेसिविर से मौतों के बाद मध्य प्रदेश में हड़कंप, एसटीएफ एडीजी को जांच का जिम्मा

एडीजी ने पूरे केस की बारीकी से समीक्षा की और कहा कि यह केस महत्वपूर्ण है

Advertisements

Indore Crime News: इंदौर। नमक-ग्लूकोज से बने नकली रेमडेसिविर से हुई मौतों के बाद प्रदेश भर हड़कंप मच गया है। सरकार ने एसटीएफ एडीजी विपिन माहेश्वरी को जांच की निगरानी का जिम्मा सौंपा है।

मंगलवार दोपहर एडीजी को सरकार ने इंदौर भेज दिया। उन्होंने जब्ती अफसरों से चर्चा की और गिरफ्तार आरोपितों के बयानों की मॉनिटरिंग की। एडीजी ने पूरे केस की बारीकी से समीक्षा की और कहा कि यह केस महत्वपूर्ण है जिसके तार दवा माफिया, अस्पताल संचालकों और दलालों से जुड़े हैं।

यह भी पढ़ें-  MP में निकाय चुनाव की तैयारी में जुटी शिवराज सरकार, बदलेंगे कई नियम

पुलिस ने तेज की छानबीन,लगातार मारे छापे

बेचने वाले तीन दलालों को विजयनगर थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपितों ने दवा बाजार के दवा कारोबारियों का नाम कबूला है। उनकी निशानदेही पर पुलिस दवा बाजार सहित अन्य ठिकानों पर छापे मार रही है। अभी तक की पूछताछ में 1200 से ज्यादा नकली इंजेक्शऩ की खरीद फरोख्त सामने आ चुकी है।

विजयनगर थाना पुलिस के मुताबिक शुरुआज अजहर अहमद,जुबैर खान,मोहम्मद साजिद,निर्मल साकल्य,दिनेश चौधरी और धीरज साजनानी की गिरफ्तारी से हुई है। पुलिस ने इनसे मिले सुराग के आधार पर सोमवार रात देवास से चीकू शर्मा,आशीष ठाकुरऔर सुनील लोधी को हिरासत में लिया।

Show More
Back to top button