Corona newsIndoreजरा हट केहाेम

इंदौर में कोरोना संदिग्ध मृतक का हुआ पोस्टमार्टम, आवाक रह गए डॉक्टर

क्योंकि मृत्यु असामान्य थी इसलिए उसका पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कई चौंकाने वाली जानकारियां सामने आई है।

Advertisements

इंदौर। अरविंदो अस्पताल में 40 साल के एक व्यक्ति की असामान्य मृत्यु हो गई। उसे किसी भी प्रकार की कोई बीमारी नहीं थी। डॉक्टरों ने बताया कि मृत्यु के बाद शव को अस्पताल में लाया गया था। क्योंकि मृत्यु असामान्य थी इसलिए उसका पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कई चौंकाने वाली जानकारियां सामने आई है।

खून काला पड़ गया था और रक्त नालियों में जम गया था

युवक का पोस्टमार्टम करने वाले अरबिंदो अस्पताल के फोरेंसिक मेडिसिन विभाग के डाॅ. पंकज नेमा ने बताया कि पोस्टमार्टम में युवक के फेफड़ों का आकार बढ़ा था। उसमें सूजन थी और निमोनिया के लक्षण भी थे। फेफड़े तैलीय और चमकदार थे। पूरे फेफड़ों की रक्त प्रवाह नलियों में रक्त के छोटे और बड़े थक्के भरे हुए थे। इन थक्कों के रक्त का रंग काला पड़ गया था। उसके ह्दय के दोनों वेंट्रिकल्स में भी इसी तरह के काले थक्कों के साथ रक्त काला पड़ गया था। मस्तिष्क की रक्त प्रवाह करने वाली नलियों में गहरे काले रंग के चमकदार थक्के मौजूद थे। इन तीनों वाइटल आर्गन्स (जीवनीय अंगों) में रक्त का इस अवस्था में होना एकदम से असामान्य था।
डॉक्टर का कहना था कि कोरोना के कारण ही संभवत: युवक के शरीर में ये बदलाव आए जिससे उसकी मौत हो गई। बाद में पूछताछ में परिजन ने बताया कि युवक को छह-सात दिन से बुखार आ रहा था और सांस लेेने में दिक्कत भी हो रही थी। वह घर पर ही इलाज करवा रहा था। युवक की न कोविड जांच हुई थी और न ही सिटी स्कैन हुआ था। उसकी रक्त जांच में सीआरपी का 138 होना भी कोरोना की पुष्टि करता है।

यह भी पढ़ें-  नरेंद्र गिरि की मौत से जुड़ा एक और वीडियो आया सामने, शव फंदे पर तो कैसे चलता रहा पंखा
Show More
Back to top button