मध्यप्रदेशशहर

OMG: पत्‍नी ने प्रेमी से करवाई पति की हत्‍या, कोल्ड ड्रिंक में नींद की गोलियां मिलाकर पिलाई और गला घोंट दिया

पत्नी ने पति की प्रेमी से हत्या करवा दी। पुलिस को बरगलाने के लिए आरोपित प्रेमी और प्रेमिका मृतक पति के फोन पर बात करते रहे।

Advertisements

महू । पत्नी ने पति की प्रेमी से हत्या करवा दी। पुलिस को बरगलाने के लिए आरोपित प्रेमी और प्रेमिका मृतक पति के फोन पर बात करते रहे। आरोपित ने मृतक की कोल्ड ड्रिंक में नींद की गोली मिलाकर पिलाई और बेहोश किया। बाद में गला दबा कर हत्या कर दी। दोनों आरोपित पुलिस गिरफ्त में हैं।

रविवार की सुबह नंदलाई घाटी के पास युवक की लाश मिली थी जिसकी शिनाख्त 38 वर्षीय अनिल अमोल ठाकुर निवासी चिनार कॉलोनी के रूप में हुई। मृतक के गले में कपड़ा बंधा होने पर पुलिस ने जांच शुरू की।

मृतक पीथमपुर की कंपनी में काम करने के अलावा पार्ट टाइम निजी टैक्सी चलाता था जो शनिवार की शाम को सवारी छोड़ने का कह कर घर से निकला था। एसपी पश्चिम महेश चंद्र जैन ने बताया कि नवागत एएसपी पुनीत गहलोत, एसडीओपी विनोद शर्मा और मानपुर थाना प्रभारी महेंद्र सिंह राठौर ने टीम बना कर अलग-अलग जांच की और मात्र 48 घंटे में पूरे घटनाक्रम का पर्दाफाश कर दिया।

एसपी जैन ने बताया कि मृतक अनिल विगत दस साल से अपने पिता, पत्नी व एक आठ वर्षीय पुत्र और छह वर्षीय पुत्री के साथ रहता है। पीथमपुर की कंपनी में काम करने के अलावा निजी टैक्सी चलाता है। शनिवार को आरोपित राहुल ने अनिल को पत्नी को कसरावद से लाने के लिए टैक्सी से ले गया और रास्ते में कोल्ड ड्रिंक में नींद की गोलियां मिलाकर पिला दी। अनिल को नींद आने व बाद में बेहोश होने पर उसकी कपड़े से गला दबा कर हत्या कर दी और कैलोद के रास्ते पर शव फेंक कार किनारे खड़ी कर दी।

आरोपित की मंशा थी कि मृतक अनिल का शव को सड़क पर फेंक देने के बाद उस पर से वाहन चढ़ जाए ताकि उसे एक दुर्घटना का रूप मिल जाए लेकिन आरोपित ने शव सड़क किनारे फेंक दिया। इस रास्ते पर वाहनों का आवागमन ज्यादा नहीं रहता। इस कारण उसकी मंशा सफल नहीं हो सकी।

 

हत्या का कारण प्रेम प्रसंग

मृतक की पत्नी आरती की पड़ोस में रहने वाले राहुल से आठ माह पूर्व दोस्ती हुई जो बाद में प्रेम में बदल गई। इसके बाद पति को रास्ते से हटाने के लिए साजिश रची। आरती ने ही प्रेमी राहुल को बताया कि वह नौकरी करने के अलावा टैक्सी चलाने का काम करता है और उसे कोल्ड ड्रिंक पीने का शौक है। साजिश के अनुसार राहुल ने अनिल से कहा कि कसरावद से उसकी गर्भवती पत्नी को लाना है। इसके बदले में उसे ढाई हजार रुपये भी दिए। रास्ते में कोल्ड ड्रिंक खरीदे जिसमें अत्यधिक मात्रा में नींद की गोलियां मिला दी। कसरावद पहुंचने पर आरोपित ने कहा कि वह सनावद चली गई तो दोनों कार लेकर सनावद के लिए रवाना हो गए। गोली का असर होने पर गवली पलासिया में मृतक बेहोश हो गया, जहां गला दबा कर हत्या कर दी।

इनाम की घोषणा

इस घटना का पर्दाफाश करने पर एसपी जैन ने जवानों को नकद पुरस्कार देने की घोषणा की। इसमें कमल उईके, प्रतापसिंह, रंजीत, मिकिता चौहान, सोमवती, मुकेश नागर, योगेश रघवंशी, मुन्नालाल, विजयसिंह चौहान, रवि तिवारी, का योगदान रहा।

यह भी पढ़ें-  चित्रकूट के जुड़वा मासूम श्रेयांश, प्रियांश अपहरण व हत्याकांड में सभी आरोपितों को आजीवन कारावास
Show More
Back to top button