हाेम

ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी जारी, NRI से एक सिलेंडर का वसूला 1.10 लाख, अमेरिका से खाते में रुपए ट्रांसफर किए

अमेरिका में रहनेवाले एक एनआरआई से कोरोना संक्रमित उनके रिश्तेदार तक ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचाने के लिए यही कीमत वसूली है।

Advertisements

ऑक्सीजन की एक सिलेंडर की कीमत 1.10 लाख रुपए हो सकती है शायद किसी ने सोंचा भी नहीं होगा। पर यह हकीकत है। कालाबाजारियों ने अमेरिका में रहनेवाले एक एनआरआई से कोरोना संक्रमित उनके रिश्तेदार तक ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचाने के लिए यही कीमत वसूली है। हालांकि कालाबाजारी करनेवाले 9 शातिरों को ईओयू ने न सिर्फ ढूंढ निकाला बल्कि गिरफ्तार भी कर लिया है। आमतौर पर 10 किलो के एक सिलेंडर की कीमत लगभग सात हजार रुपए होती है।

अमेरिका में रहनेवाले पटना जिले के नौबतपुर के एक एनआरआई ने पांच दिन पूर्व एडीजी ईओयू एनएच खान को व्हाट्सएप पर बताया कि उनसे पटना के रहनेवाले एक शख्स ने ऑक्सीजन सिलेंडर देने के एवज में 1.10 लाख रुपए लिए हैं। उनके रिश्तेदार कोरोना संक्रमित थे। उन्हें घर पर ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत थी। ऑक्सीजन के लिए उन्होंने संपर्क किया तो हर्ष राज नाम के शख्स ने मोटी रकम की मांग की। उन्हें जरूरत थी लिहाजा उन्होंने उसके पटेल नगर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के खाते में यह रकम ट्रांसफर कर दी।

यह भी पढ़ें-  CM शिवराज ने अरुण यादव की तारीफ में कही ये बात , जनिये पूरा मामला -

खाते में 6 दिन में जमा हुए 9 लाख रुपए
एडीजी ने ईओयू के डीएसपी भाष्कर रंजन व रजनीश कुमार को कालाबाजारी के इस रैकेट में शामिल धंधेबाजों को गिरफ्तार करने की जिम्मेदारी सौंपी गई। तहकीकात के बाद सोमवार को हर्षराज को ईओयू ने खरीददार बनकर संपर्क किया व उसे राजीव नगर इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया। इंद्रपुरी रोड न. 10 स्थित उसके घर की तलाशी में ली गई। ऑक्सीजन सिलेंडर भी बरामद किया गया है। जांच के दौरान बात सामने आई कि हर्ष राज के बैंक ऑफ बड़ौदा स्थित उसके खाते में पिछले 6 दिनों में करीब 9 लाख रुपए जमा हुए हैं। खाते को फ्रीज करने की कार्रवाई की गई है।

यह भी पढ़ें-  बड़ी चूक: सतना में गांधी के साथ प्रधानमंत्री की फोटो पर माला पहना दी 
Show More
Back to top button