Corona newsमध्यप्रदेश

अच्छी खबर: MP में कम हो रहा कोरोना संक्रमण, 1.9 प्रतिशत पहुंची ग्रोथ रेट

Advertisements

भोपाल। मध्‍य प्रदेश (Madhya pradesh) में प्रदेश सरकार एवं सामाजिक संगठनों (Social organizations) के कार्य अब रंग ला रहा है, समाज और सरकार के समन्‍वय का परिणाम है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Corona infection) घटने लगा है। नए पॉजिटिव मरीजों की संख्या 11 हजार 51 पर आई है और ग्रोथरेट 1.9 पर पहुंच गई है। पॉजिटिविटी रेट 16.9% हो गई है। मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना (Chief Minister Kovid Treatment Scheme) के माध्यम से हर गरीब एवं मध्यम वर्गीय व्यक्ति को हर जिले में नि:शुल्क उपचार की सुविधा दी जा रही है।

उल्‍लेखनीय है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए गाँव-गाँव, शहर-शहर में किल कोरोना अभियान चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत गाँवों में घर-घर सर्वे कर मरीजों की पहचान कर तुरंत उपचार चालू किया जा रहा है। शहरों में कोविड सहायता केन्द्रों के माध्यम से स्वास्थ्य जाँच, नि:शुल्क मेडिकल किट वितरण किया जा रहा है। हम शीघ्र ही कोरोना को पूरी तरह नियंत्रित कर लेंगे।

यह भी पढ़ें-  EPFO Alert: एक झटके में खाली हो जाता है पूरा PF अकाउंट, EPFO ने दी यह सलाह

 

इस संबंध में रविवार सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने अधिकारियों को फिर से नए निर्देश दिए हैं। चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर (संभावित) की पूरी तैयारी रखें। इस संबंध में इंडियन कॉउन्सिल ऑफ मेडिकल रिसर्च तथा राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों से विचार-विमर्श कर तैयारियां की जायें। होम आइसोलेशन की व्यवस्था परफैक्ट होनी चाहिए। यहां समय पर दवाएं तथा निरंतर चिकित्सकीय सलाह मिलती रहे। आवश्यकतानुसार मरीजों को अस्पतालों में शिफ्ट किया जाए। आई.सी.यू. बेड्स की संख्या बढ़ाई जाए, किल कोरोना अभियान सघन रूप से चलाया जाए तथा संक्रमण की चेन सख्ती के साथ तोड़ी जाए।

इसके अलावा चौहान ने कहा कि जिन जिलों में संक्रमण कम है वहां कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन करें तथा किल कोरोना अभियान के माध्यम से संक्रमण की चेन तोड़कर जिलों को कोरोना मुक्त किया जाए। प्रदेश में छिंदवाड़ा, भिंड, बुरहानपुर, खंडवा तथा अशोकनगर जिलों में कोरोना के सबसे कम प्रकरण हैं।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि विशेषज्ञों की एक समिति का गठन कर लिया गया है। वहीं, बताया गया कि होम आइसोलेशन में रह रहे एक प्रतिशत मरीजों को अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। सीहोर, कटनी एवं रतलाम जिलों को विशेष ध्यान दिया जा रहा है । साथ ही सीएम शिवराज को बताया गया कि जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि अब प्रदेश के 11 जिलों में ही कोरोना के 200 से अधिक नए प्रकरण हैं। इंदौर में 1679, भोपाल में 1556, जबलपुर में 946, ग्वालियर में 861, रतलाम में 398, सीधी में 388, रीवा में 297, उज्जैन में 286, शिवपुरी में 244, सीहोर में 217 तथा सतना में 208 कोरोना के नए प्रकरण आए हैं।

19 हजार 710 कोविड मरीजों को नि:शुल्क उपचार

प्रदेश में मुख्यमंत्री कोविड सहायता योजना के अंतर्गत 19 हजार 710 कोविड मरीजों को नि:शुल्क उपचार उपलब्ध कराया जा रहा है। इनमें से 15 हजार 579 कोविड मरीजों को शासकीय अस्पतालों में, 3,042 कोविड मरीजों को अनुबंधित अस्पतालों में तथा 1,079 मरीजों को आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत संबद्ध अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज उपलब्ध कराया जा रहा है। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आज की स्थिति में उपचाररत मरीजों पर एक करोड़ 13 लाख 69 हजार 993 रूपए शासन द्वारा व्यय किया जा रहा है।

अस्पतालों द्वारा अधिक शुल्क वसूले जाने पर कार्यवाही

प्रदेश में निजी अस्पतालों द्वारा कोरोना मरीजों से अधिक शुल्क वसूले जाने पर 87 अस्पतालों के विरूद्ध कार्यवाही की गई और उनसे 24 लाख 54 हजार रूपए की राशि मरीजों को वापस दिलाई गई। साथ ही 32 व्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। रेमडेसिविर आदि की कालाबाजारी पर भी निरंतर कड़ी कार्रवाई की जा रही है।

 

Show More
Back to top button