मध्यप्रदेश

कोरोना भगाने के लिए हो रहा था भंडारा, रोकने गई पुलिस पर पथराव, कई के फूटे सिर

कोरोना भगाने के लिए हो रहा था भंडारा, रोकने गई पुलिस पर पथराव

Advertisements

शिवपुरी। शिवपुरी के एक गांव में कोरोना को भगाने के लिए एक बाबा के कहने पर टोटका और भंडारा कराया जा रहा था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब इस आयोजन को रोका ग्रामीणों ने पुलिस पार्टी पर पत्थरों से हमला कर दिया। घटना में थाना प्रभारी समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने पांच लोगों पर नामजद और 70 अन्य लोगों को केस दर्ज कर लिया है। बताया गया है कि मामला आयोजन करा रहे गेबू बाबा के सिर फूटने के कारण बिगड़ा था।

अमोला थाना क्षेत्र के राजगढ़ गांव में रविवार को ग्रामीण गेबू बाबा के कहने पर टोटका और भंडारा करा रहे थे। बड़ी संख्या में भीड़ जुटने की सूचना पर पुलिस दोपहर करीब ढाई बजे गांव पहुंची। ग्रामीण पानी से भरा मटका लेकर मेड़ बंधान कर रहे थे। इसके पूरा होने पर भंडारा शुरू होना था। पुलिस जब भंडारे को रोकने लगी तो उसका ग्रामीणों से टकराव हो गया। इसी दौरान टोटका करा रहे बाबा गेबू का सिर फूट गया।

यह भी पढ़ें-  मध्य प्रदेश ने वेक्सीनेशन में बनाया रिकार्ड, एक दिन में 13 लाख से अधिक लोगों को लगा टीका

बाबा की चीख सुनकर आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला बोल दिया। सरपंच बालकिशन पाल ने बताया कि कोरोना से हो रही मौतों को रोकने ग्रामीणों ने मेड़ बंधान का टोटका किया था। इसके बाद कन्या भोज और भंडारा होना था और इस बीच पुलिस आ गई। पुलिस ने राजेश बघेल, जगभान बघेल सहित कुछ ग्रामीणों के साथ बल प्रयोग कर उन्हें तितर-बितर करने के लिए लाठी चलाई। भंडारा स्थल पर भगदड़ मच गई।

पुलिस पर फेंके पत्थर, कई घायल गाड़ी भी फूटी

पुलिस कार्रवाई के विरोध में गुस्साए ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया। गेबू बाबा को चोट लग गई। लोगों को लगा कि बाबा को चोट पुलिस की मार से लगी है। वे और भड़क गए। अमोला थाना प्रभारी राघवेंद्र सिंह यादव ने बताया कि ग्राम राजगढ़ में भंडारे में कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन हो रहा था। जब मना किया तो उन लोगों ने टीम पर पथराव किया। थाना प्रभारी राघवेंद्र यादव सहित 7-8 पुलिसकर्मियों को चोट आई है। इसमें प्रधान आरक्षक रामहेत सहित आरक्षक प्रमोद कुमार व राम लक्ष्मण मगरिया को ज्यादा चोट है।

यह भी पढ़ें-  बड़ी चूक: सतना में गांधी के साथ प्रधानमंत्री की फोटो पर माला पहना दी 
Show More
Back to top button