जरा हट केराष्ट्रीयविदेशहाेम

Spaceship In Sky-अमेरिका में आकाश में दिखाई दी रोशनी को लोगों ने समझा यूएफओ, जानिए क्या है सच्चाई

अंतरिक्ष में नजर रखने वाले और विज्ञानियों ने इस पर नाराजगी जताई है। दरअसल आसमान में दिखाई दी रोशनियों के पीछे एलन मस्क की कंपनी का हाथ था।

Advertisements

Spaceship In Sky अमेरिका के कुछ हिस्सों में बुधवार, गुरुवार और शुक्रवार रात आकाश में तेज रोशन नजर आई। जिसके बाद से लोग काफी हैरत में पड़ गए। लोगों ने इससे यूएफओ समझ लिया, लेकिन वह कुछ और था। अंतरिक्ष में नजर रखने वाले और विज्ञानियों ने इस पर नाराजगी जताई है। दरअसल आसमान में दिखाई दी रोशनियों के पीछे एलन मस्क की कंपनी का हाथ था।

उपग्रहों की हुई टेस्टिंग

यह भी पढ़ें-  7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए राहत की खबर, दीपावली से पहले मिलेगा महंगाई भत्ता

एलन मस्क की कंपनी स्पेसएक्स इस सप्ताह स्टारलिंग इंटरनेट सेवा की शुरुआत की। जिसमें कम दूरी पर उड़ान भरने वाले उपग्रहों की टेस्टिंग की गई। टेक्सास से लेकर विस्कॉन्सिन तक जनता ने न्यूज चैनलों को फोन कर इन उजालों के बारे में सूचना दी। उन्हें उड़नतश्तरियां होने का अंदाजा लगाया था। यहां तक की कुछ लोगों ने स्पेसएक्स के प्रवक्ता को ईमेल भेज जवाब तक मांगा।

रोशनी और पृथ्वी से दूरी की पहचान करना आसान

अंतरिक्ष विज्ञानिकों कहना है कि नजर आई रोशनियां और पृथ्वी से उनकी दूरी से पहचान स्टारलिंक उपग्रहों के तौर पर करना आसान था। जिन्होंने पहले भी इसे देखा होगा। अमेरिकीन एस्ट्रोनॉमिकल सोसाइटी के प्रेस अफसर डॉ. रिचर्ड फिनबर्ग ने कहा कि आप इन्हें स्टारलिंक उपग्रह बता सकते हैं। ये मोतियों की एक माला सी दिखाई देती है। कुछ कक्षाओं से एक के बाद एक आती रोशनियों की तरह है। बता दें स्पेसएक्स ने पहले भी कई उपग्रहों का प्रक्षेपण किया है। जिसके पीछे एलन मस्क की कंपनी का उद्देश्य वंचित क्षेत्रों तक इंटरनेट की पहुंच को बढ़ाना है।

Show More
Back to top button