Corona newsमध्यप्रदेशहाेम

मध्य प्रदेश के गाँव में 6 से अधिक कोरोना संक्रमित मिलने पर तत्काल हॉटस्पॉट घोषित होगा

आज शनिवार को अधिकारियों को निर्देशित किया कि गाँव में 6 से अधिक कोरोना संक्रमित मिलने पर उसे तत्काल हॉटस्पॉट घोषित करें

Advertisements

भोपाल । मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने आज शनिवार को अधिकारियों को निर्देशित किया कि गाँव में 6 से अधिक कोरोना संक्रमित मिलने पर उसे तत्काल हॉटस्पॉट घोषित करें। कृषि मंत्री ने मैदानी अमले को किल कोरोना अभियान के अंतर्गत घर-घर पहुँच कर सर्वे करने और मेडिकल किट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

दरअसल, कृषि मंत्री  कमल पटेल ने आज हरदा जिले के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कोविड-19 के नियंत्रण के लिए समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने तहसील एवं ब्लॉक स्तर के वरिष्ठ अधिकारियों, तहसीलदार, ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर, एसडीएम, आशा और ग्रामीण स्वास्थ्य कार्यकर्ताओ के साथ भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने साफ कहा कि संक्रमित के घर पर कम जगह होने पर ग्राम पंचायत द्वारा निर्मित कोविड केयर सेन्टर में भर्ती करें।

यह भी पढ़ें-  आज का राशिफल: इन राशि वालों को महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल होगी, धन कमाने के मौके मिलेंगे

कृषि मंत्री पटेल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा निर्देशित किया कि जिला अस्पताल में लगाई गई ‘हाईटेक बॉयो एनालाइजर’ मशीन से अधिकतम सैंपल लिये जाकर तुरंत इलाज की व्यवस्था करें। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर कराये जा रहे सर्वे की भी समीक्षा की। उन्होंने संक्रमितों को तत्परता पूर्वक मेडिकल किट मुहैया कराने को भी कहा है। कलेक्टर (Harda Collector को निर्देशित किया कि मैदानी अमले के साथ सतत मॉनिटरिंग कर किल कोरोना अभियान को तेजी के साथ क्रियान्वित करें।

200 अतिरिक्त एम्बुलेंस स्वीकृत

इधर, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी (Health Minister Dr. Prabhuram Chaudhary) ने बताया कि कोविड संक्रमित मरीजों को अस्पताल ले जाने में किसी भी प्रकार की कठिनाई न हो इसके लिए 200 अतिरिक्त एम्बुलेंस वाहन किराये पर लेने की स्वीकृति दी गई है।पूर्व में कोविड – 19 मरीजों के परिवहन के लिए प्रदेश के जिलों में 148 वाहन की स्वीकृति दी गई थी। इस प्रकार अब प्रदेश के जिलों में कोविड संक्रमित मरीजों के लिए 348 एम्बुलेंस वाहन से अस्पताल ले जाने के लिए उपलब्ध रहेंगे। इस संबंध में समस्त कलेक्टर एवं समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश जारी कर दिये गये हैं।

Show More
Back to top button