मध्यप्रदेश

गरीबों का हित सरकार की पहली प्राथमिकता, CM शिवराज ने डाले संबल हितग्राहियों के खाते में 379 करोड़ रुपए

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गरीबों का हित करना राज्य शासन की प्राथमिकता में है। गरीब मजदूर वर्ग को संकट के समय संबल देने के लिये ही संबल योजना बनाई गई है। योजना में आज प्रदेश के 16 हजार 844 हितग्राहियों के खाते में 379 करोड़ रुपये अंतरित किये गये हैं। कोरोना काल के संकट में यह सहायता राशि गरीब परिवारों के लिये काफी उपयोगी साबित होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान मंगलवार को असंगठित क्षेत्र के गरीब श्रमिक परिवारों को मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना में सहायता राशि वितरण कार्यक्रम को वर्चुअल संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में श्रम मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह भी वर्चुअली शामिल हुए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हितग्राहियों से संवाद करते हुए कहा कि संकट के कठिन समय में संबल योजना के 16 हजार 844 हितग्राहियों को की गई आर्थिक मदद के साथ तीन माह का नि:शुल्क राशन भी दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। कोरोना की जंग में प्रदेशवासियों का सहयोग भी जरूरी है। उन्होंने हितग्राहियों का आव्हान किया कि वे कोरोना के प्रति सावधानियाँ बरतें और स्वयं के साथ दूसरों को भी बचायें।

यह भी पढ़ें-  अच्छी खबर: मध्य प्रदेश को CORONA से अब तक की सबसे बड़ी राहत, 7571 नए मामले, एक लाख से कम एक्टिव केस

संबल योजना गरीबों की ताकत

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि संबल योजना गरीबों की ताकत है। प्रदेश में मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना के अंतर्गत असंगठित क्षेत्र के गरीब श्रमिक परिवारो के सदस्यों की मृत्यु, अपंगता, आंशिक अपंगता की स्थिति में उन्हें अथवा उनके परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। योजना की शुरूआत से अब तक विगत तीन वर्षो में प्रदेश के 2 लाख 44 हजार 844 हितग्राहियों अथवा उनके परिजनों के खातों में 2 हजार 286 करोड़ की राशि अंतरित की गई है।

संबल योजना के अंतर्गत श्रमिकों की दुघर्टना मृत्यु पर 4 लाख रूपये की राशि उनके आश्रितों को दी जाती है। इसी प्रकार सामान्य मृत्यु अथवा स्थायी अपंगता की स्थिति में 2-2 लाख रूपये की अनुग्रह राशि मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना में दी जाती है। श्रमिक के आंशिक स्थायी अपंगता की स्थिति में उसे एक लाख रूपये की आर्थिक सहायता एवं अंत्येष्ठि सहायता के रूप में 5 हजार रूपये दिये जाने का प्रावधान भी योजना में है।

यह भी पढ़ें-  बालाघाट: ट्रक की चपेट में आये तीन युवकों की घटनास्थल पर मौत

सर्वाधिक 3398 हितग्राही जबलपुर संभाग से

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सिंगल क्लिक के द्वारा भोपाल संभाग में 1645 हितग्राहियों के खातों में 3 हजार 782 लाख रूपये, चंबल संभाग में 658 हितग्राहियों को 1422 लाख रूपये, ग्वालियर संभाग में 1058 हितग्राहियों को 2404 लाख एवं इंदौर संभाग में 2 हजार 587 हितग्राहियों को 5716 लाख रूपये उनके खातों में हस्तांरित किये। जबलपुर संभाग में सर्वाधिक 3 हजार 398 हितग्राहियों को 7526 लाख रूपये,होशंगाबाद में 893 हितग्राहियों को 2062 लाख रूपये, रीवा में 1316 हितग्राहियों को 3020 लाख रूपये, सागर में 2326 हितग्राहियों को 5240 लाख रूपये ,शहडोल में 672 हितग्राहियों को 1490 लाख रूपये और उज्जैन में 2291 हितग्राहियों को 5172 लाख रूपये उनके खातों में आज हस्तांरित किये गये।

यह भी पढ़ें-  MP NEWS आशा कार्यकर्ताओं को कोरोना इंसेंटिव के आदेश जारी - EMPLOYEE NEWS

गरीब की थाली रहे न कभी खाली

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीब परिवारों को तीन माह का राशन एकमुश्त प्रदान किया जा रहा हैं। जिन्होंने अप्रैल माह के राशन का भुगतान कर दिया है। उन्हें जुलाई माह का राशन नि:शुल्क दिया जायेगा। चूँकि यह लड़ाई घर में बैठकर ही लड़ी जायेगी तभी जीती जा सकती है। आपको काम पर जाने की जरूरत नहीं, राशन आपको नि:शुल्क घर पर ही उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि आप लोग बीमारी को छुपाएँ नहीं। प्रारंभिक रूप से सर्दी खाँसी का पता लगते ही डॉक्टर्स को बताएँ आपको नि:शुल्क मेडिकल किट दी जायेगी। आप घर पर रहकर ही ठीक हो सकते हैं।

Show More
Back to top button