Corona newsकटनीहाेम

निगेटिव खबरों के बीच सकारात्मक खबर, कटनी में अत्याधुनिक ऑक्सीजन प्लांट क्षेत्र के लिए संजीवनी हो रहा है साबित

ऑक्सीजन के लिए हाहाकार मचा हुआ है तब यह आधुनिक तरल आँक्सीजन प्लांट कटनी ही नहीं ब्लकि आसपास के क्षेत्र के लिए भी वरदान साबित हो रहा है।

कटनी। कटनी शहर में अत्याधुनिक लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट जिले के लिए कोरोना महामारी में प्राणदायक संजीवनी बना हुआ है। जब अन्य जिलों में उन्नत मेडिकल सुविधाएं होते हुए भी ऑक्सीजन के लिए हाहाकार मचा हुआ है तब यह आधुनिक तरल आँक्सीजन प्लांट कटनी ही नहीं ब्लकि आसपास के क्षेत्र  छतरपुर तक के जिलों के लिए वरदान साबित हो रहा है।

 

लिक्विड ऑक्सीजन टेक्नोलॉजी में गैस को शून्य से 183 डिग्री सेल्सियस नीचे ले जाकर उसे तरल किया जाता है। इस माप में छू जाने मात्र से कोई भी वस्तु बरफ हो जाती है। आज जब कोरोना काल में इलाज के लिए जिलेवासियों, मेडिकल जगत व प्रशासन को अनगिनत चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं यह ऑक्सीजन प्लांट से प्राण दायक संजीवनी की आपूर्ति जिले की लिए वरदान बनी हुई है।

यह भी पढ़ें-  CBSE Board Exam 2021: 30 जून के बाद जारी होगा 10वीं कक्षा का परिणाम

शहर के लिए यह बड़ी उपलब्धि मुमकिन हो पाई हैं इसके शहर के उधोगपति पवन बजाज की लगनशीलता प्रमुख है। वैसे पवन हमेशा से चुनौतियों को चैलेंज करने की अपनी रुचि और तकनीकी दक्षता के चलते उन्होंने इस दुष्कर तकनीक को साधा और कटनी शहर में समय से पहले इसकी स्थापना की।

यह भी पढ़ें-  यहां भी मुनाफाखोरी: 800 रुपये में बुक कर रहे थे वैक्सीनेशन स्लॉट, पुलिस ने दबोचा

पवन बजाज, सारंग बजाज और उनकी टीम द्वारा कोरोना संकट काल की तमाम विषम चुनौतियां, प्लांट में लगने वाली आवश्यक सामग्रियों की कमी, समस्त टीम पर कोरोना के घातक संक्रमण का खतरा आदि का साहसिक सामना करते हुए दिन रात अथक परिश्रम करके ऑक्सीजन की उपलब्धता सुचारू रखी जा रही है।

यह भी पढ़ें-  अब 2 से 18 साल के बच्चों के टीके की तैयारी, कोवैक्सिन से होगा दूसरे-तीसरे चरण का ट्रायल

इस आपदा काल के समय में भी सैकड़ों पीड़ितों को इनके ऑक्सीजन प्लांट पर 10,000/- के सिलेंडर की बिना सिक्युरिटी राशि लिए और न जाने कितने ही जरूरतमंदों को निःशुल्क सिलेंडर उपलब्ध कराकर अनगिनत नागरिकों की प्राण रक्षा की गई है।

Show More
Back to top button