खेलहाेम

हाईकोर्ट में याचिका: कोरोना के चलते टूर्नामेंट के बाकी मैच रद्द करने की मांग, पिटीशनर ने कहा- पब्लिक हेल्थ क्रिकेट से ज्यादा जरूरी

हाईकोर्ट में याचिका:कोरोना के चलते टूर्नामेंट के बाकी मैच रद्द करने की मांग, पिटीशनर ने कहा- पब्लिक हेल्थ क्रिकेट से ज्यादा जरूरी

Advertisements

इंडियन प्रीमियर लीग यानी IPL के बाकी बचे मैचों पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई। इसमें हाईकोर्ट से मांग की गई है कि वो IPL के बाकी मैचों को रद्द करने के आदेश जारी करे। पिटीशन में ये मांग भी की गई है कि पब्लिक हेल्थ यानी जन स्वास्थ्य से ज्यादा क्रिकेट और IPL को तवज्जो दिए जाने के बारे में केंद्र, दिल्ली सरकार, बोर्ड और डीडीसीए को नोटिस जारी कर उनसे इस संबंध में जवाब मांगा जाए।

वकील ने दायर की है याचिका
यह याचिका दिल्ली के वकील और सामाजिक कार्यकर्ता करण सिंह ठकराल ने दायर की है। ठकराल फिलहाल खुद संक्रमित हैं और दिल्ली में मेडिकल सुविधाओं की खस्ता हालत को देखकर परेशान हैं। उन्होंने अपनी याचिका एक अन्य वकील के जरिए दायर की है। इसमें हाईकोर्ट से अपील की गई है कि वो इस मामले की जांच के आदेश दे कि कैसे जन स्वास्थ्य से ऊपर IPL को तरजीह दी गई। इस मामले की गहराई से जांच होनी चाहिए। याचिका में कहा गया है कि बाकी बचे मैचों को तुरंत प्रभाव से रद्द किया जाए।

यह भी पढ़ें-  जल्द ही खत्म हो सकता में MP नाईट कर्फ्यू, सरकार ने मांगे कलेक्टरों से सुझाव

केंद्र सरकार भी घेरे में
याचिका में हाईकोर्ट से अपील की गई है कि वो दिल्ली में कोविड-19 से पैदा हुए हालात के बारे में सबसे पहले केंद्र सरकार से जवाब मांगे कि ये हालात क्यों बने। इसके बाद BCCI और फिर DDCA से जवाब तलब करने की मांग की गई है। दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी नोटिस भेजने की मांग इस याचिका में की गई है।

पिटीशनर ने कहा है कि हाईकोर्ट से गुजारिश है कि वो दिल्ली में IPL का कोई भी मैच होने से रोके, क्योंकि लोगों के स्वास्थ्य की सुरक्षा वक्त की सबसे बड़ी जरूरत और मांग है। लोगों को अस्पतालों में बेड्स और दूसरी जरूरी सुविधाएं मुहैया नहीं हो पा रही हैं। सोमवार को यह मामला सिंगल बेंच के पास सुनवाई के लिए आया। इस बेंच ने याचिका पर सुनवाई का जिम्मा दूसरी डिवीजन बेंच के सुपुर्द कर दिया। अब इस पर बुधवार 5 मई को सुनवाई होगी।

Show More
Back to top button