मध्यप्रदेश

गैर अधिमान्य पत्रकार और कैमरा मैन को भी कोरोना वारियर्स घोषित करने BJP नेता ने की मांग

भाजपा नेता सुरेंद्र शर्मा ने मुख्यमंत्री शिवराज से गैर अधिमान्य पत्रकार और कैमरा मैन को कोरोना वारियर्स घोषित करने का निवेदन किया है।

कोरोना काल में जहां एक ओर पूरी दुनिया घरों में बंद हो गई है, वहीं दूसरी ओर हमारे कोरोना वॉरियर्स (Corona Warriors) सभी की सुरक्षा के लिए खुद आगे आकर लड़ाई लड़ रहे हैं। लेकिन खुशी की बात ये है कि मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में अब पत्रकार भी फ्रंटलाइन वर्कर्स (Front line Workers) माने जाएंगे। मध्यप्रदेश सरकार (MP Government) ने जनसंपर्क विभाग (Public Relations Department) से अधिमान्य पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स की श्रेणी में शामिल किया है। तो वहीं भाजपा नेता सुरेंद्र शर्मा (BJP Leader Surendra Sharma) ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि फील्ड में काम कर रहे गैर अधिमान्य पत्रकार और कैमरा मैन को भी कोरोना वारियर्स घोषित किया जाए।

यह भी पढ़ें-  एक बार फिर सुर्खियों में आए रीवा सांसद जर्नादन मिश्रा, क्वारंटीन सेंटर के टाॅयलेट को किया साफ

दरअसल, भाजपा नेता सुरेंद्र शर्मा ने फेसबुक पर एक पोस्ट कर कहा कि माननीय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मांग की है कि अधिमान्य पत्रकारों के साथ साथ जो भी पत्रकार एवं उनके साथी कैमरा मैन जो फील्ड में काम कर रहे हैं उन्हें भी कोरोना वारियर्स माना जाये। क्योंकि 90 प्रतिशत पत्रकार ऐसे हैं जिन्हें भले ही अधिमान्यता प्राप्त नहीं है लेकिन फील्ड पर रिपोर्टिंग कर जो वास्तविक समाचार लाते हैं। जिला जनसंपर्क कार्यालय में पंजीकृत सभी लोगों को इसका लाभ मिले।

यह भी पढ़ें-  Mucarmycosis black fungus ब्लैक फंगस को लेकर मानवाधिकार आयोग ने मांगा सरकार से जवाब

बता दे कि मप्र सरकारा द्वारा आज सुबह ही प्रदेश के अधिमान्यता प्राप्त पत्रकार फ्रंट लाइन वर्कर की श्रेणी में शामिल किये जाने का ऐलान किया गया हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण में वास्तविकता को जन-जन तक पहुंचाने वाले पत्रकार भी वास्तव में कोरोना वॉरियर्स हैं। अधिमान्य पत्रकारों को भी फ्रंट लाइन वर्कर्स को दी जाने वाली सभी सुविधाओं का लाभ दिया जायेगा।

Show More
Back to top button