ज्ञानज्योतिषधर्मप्रदेश

Rashi Parivartan In May 2021: ये दो ग्रह मई माह में दो बार बदलेंगे अपनी राशियां, जानें क्या होगा असर

इस राशि में बुध 26 मई तक स्थित रहेंगे। इसके बाद 26 तारीख को बुध फिर से राशि परिवर्तन करेंगे। ये वृष से निकलकर अपनी स्वराशि मिथुन में प्रवेश करेंगे। इस राशि में यह 3 जून तक रहेंगे।

Rashi Parivartan In May 2021: इस माह यानी मई में दो ग्रह अपना राशि परिवर्तन करेंगे। इस महीने बुध और शुक्र दो बार अपनी राशियां बदलेंगे। बुध ग्रह की बात करें तो ये मई के पहले ही दिन यानी कि आज शुक्र की राशि वृष में आएंगे। यहां पर राहु पहले से ही मौजूद हैं। इस राशि में बुध 26 मई तक स्थित रहेंगे। इसके बाद 26 तारीख को बुध फिर से राशि परिवर्तन करेंगे। ये वृष से निकलकर अपनी स्वराशि मिथुन में प्रवेश करेंगे। इस राशि में यह 3 जून तक रहेंगे। इसी बीच बुध मिथुन राशि में 30 मई को वक्री हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें-  कोविड के इलाज में प्लाज्मा थेरेपी का नहीं होगा इस्तेमाल, ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल से हटाने का फैसला

ज्योतिषशास्त्र में बुध ग्रह को एक तटस्थ ग्रह कहा गया है। अगर किसी जातक का बुझ कमजोर हो तो वे स्वभाव से बेहद ही संकोची होते हैं। यह जातक हर किसी के सामने अपनी बात रखने में सक्षम नहीं होते हैं। इनकी वाणी से हमेशा ही कटु वचन निकलते हैं जिसके चलते इनका काम बिगड़ जाते हैं।

शुक्र करेंगे वृषभ राशि में गोचर:

यह भी पढ़ें-  ISRO की पोर्टेबल ऑक्सीजन मशीन ‘श्वास’ बचाएगी लोगों की जिंदगी

4 मई को दोपहर 1 बजकर 23 मिनट पर शुक्र देव मेष राशि की यात्रा समाप्त कर अपनी राशि वृषभ में प्रवेश करेंगे। इस राशि में शुक्र 28 मई की रात्रि 11 बजकर 57 मिनट तक गोचर करेंगे। इसके बाद ये मिथुन राशि में चले जाएंगे।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, शुक्र ग्रह जातक के लिए लग्जरी लाइफ, मनोरंजन, फैशन, प्रेम, रोमांस आदि का कारक माना जाता है। ऐसे में शुक्र ग्रह का गोचर वृष राशि के जातकों के लिए शानदार माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें-  गंगा सप्तमी आज, जानें धार्मिक महत्व, आज भूलकर भी ना करें ये गलतियां

सूर्य करेंगे वृष राशि में गोचर:

14 मई 2021 को समस्त ग्रहों के प्रधान सूर्य, मेष राशि से वृष राशि में प्रवेश करेंगे। यहां इनकी युति बुध के साथ होगी। इस राशि में सूर्य देव 15 जून 2021 तक विराजमान रहेंगे।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्य को आत्मा, मान सम्मान, उच्च पद आदि का कारक माना गया है। वृष राशि के जातकों में सूर्य का गोचर दांपत्य जीवन और पार्टनरशिप को प्रभावित कर सकता है।

Show More
Back to top button