शहर

धूमधाम से निकली शोभायात्रा

 कटनी। बाबा नारायण शाह वार्ड स्थित झूलेलाल मंदिर में चालीहा महोत्सव के दौरान 40 दिनों तक भगवान झूलेलाल भजन कीर्तन पंजिडा पल्लव प्रार्थना के साथ मंदिर स्थित सरोवर में अखो अक्षत, चीनी जल में रहने वाले जीवों के लिए जल में डाला गया साथ ही सरोवर में व्रतधारियों द्वारा दीपदान किया गया। चालीसा महोत्सव 16 जुलाई से 24 अगस्त मनाया जाता है। यह व्रत मनोकामना पूर्ण हेतु मनाया जाता है, साथ ही इन्हीं दिनों में भगवान भोलेनाथ का श्रावण मास भी चलता है जो उत्तम फलदायी एवं मनोकामना पूर्ण का मास होता है। झूलेलाल मंदिर में 27 अगस्त को 9 बजे मुंबई से आए गृहस्थ संत ठाकुर प्रकाश राय द्वारा पूज्य बहराणा साहब की पूजा अर्चना की गई। पूजा पश्चात एक शोभायात्रा झूलेलाल मंदिर से पूज्य बहराणा साहिब की ज्योति बैण्डबाजों के साथ छैला नृत्य करते हुए निकाली गई जो माधवनगर के मुख्य मार्गों दादा परचाराम निवास, चावला चौक, हरे माधव चौक, मेन बाजार, कैरिन लाईन, निरंकारी भवन में ग्राम पंचायत चौराहा होते हुए कटायेघाट में पूजा अर्चना पश्चात ज्योति विसर्जित की गई। माताओं बहिनों एवं भाईयों द्वारा गुझी कुनी एवं कलश दरिया शाह में परवान किये गये। शोभायात्रा में पुष्प वर्षा की जा रही थी। ज्योति विर्सजन पश्चात भडारे लंगर की व्यवस्था कटायेघाट में रखी गई थी। शोभायात्रा का जगह-जगह स्वागत किया गया। साथ ही कटायेघाट मार्ग में जेबीडी उद्योग एवं एवं संजय इंडस्ट्रीज द्वारा स्वागत किया गया। इनकी रही उपस्थिति
शोभायात्रा में आत्माराम खानवानी, झम्मटमल ठारवानी, झामनदास चावला, चेतन हिन्दूजा, गोवर्धनदास कुकरेजा, प्रीतमदास मदनानी, देवीदास तुल्स्यानी, खीयल चावला, लक्ष्मीचंद कटारिया, सेवकराम आसरानी, विजय वाधवानी, घनश्याम बेलानी, लक्ष्मण नंदवानी, राजकुमार चावला, प्रेम जसूजा, मनोहरलाल बजाज, ईश्वरलाल छाबरिया, रमेश मंगतानी, विजय लालवानी, बंटू रोहरा, ईश्वर बहरानी, मनोहर बहरानी, नारायण जगवानी, नानक मूलवानी, गोपीचंद केवलानी, भागचंद नोतवानी, राजेश पंजवानी, कल्लू विश्वकर्मा, विजय चेलानी, अमृत पोपटानी, नवीन मोटवानी, अजय मेहानी, अनिल गंगवानी, सुनील मूलजानी, रोहित भोजवानी, सन्नी, हन्नी बजाज, परचाराम झामनानी, दयाल दास चेलानी, धीरू भाषानी, परमानंद राजश्री, दिलीप देवानी, पहलाज ईसरानी उपस्थित रहे। 

AD

AD
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button