HOMEMADHYAPRADESHराष्ट्रीय

Padma Awards 2023: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों की घोषणा, देखें पूरी लिस्ट

Padma Awards 2023: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों की घोषणा, देखें पूरी लिस्ट

Padma Awards 2023: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई है। 2023 के लिए राष्ट्रपति ने 106 पद्म पुरस्कारों को प्रदान करने की मंजूरी दी है। इसमें 6 पद्म विभूषण, 9 पद्म भूषण और 91 पद्म श्री शामिल हैं। पुरस्कार विजेताओं में 19 महिलाएं हैं। सूची में विदेशी/NRI/PIO/OCI की श्रेणी के 2 और मरणोपरांत 7 लोगों को पुरस्कार दिया जाएगा। आपको बता दें कि सर्वोच्च नागरिक सम्मानों में से एक पद्म पुरस्कारों के विजेताओं की घोषणा हर साल गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर की जाती है। ये पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा औपचारिक समारोह में प्रदान किए जाते हैं, जो आमतौर पर साल मार्च/अप्रैल के आसपास राष्ट्रपति भवन में आयोजित किया जाता है।

पद्म विभूषण, भारत रत्न के बाद देश का दूसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है। इस साल 6 हस्तियों को पद्म विभूषण दिया गया है। भारत के पूर्व रक्षा मंत्री और यूपी के पूर्व सीएम दिवंगत मुलायम सिंह यादव को मरणोपरांत पद्मविभूषण से सम्मानित किया गया है। उनके अलावा, ORS के अग्रणी दिलीप महालनाबिस को मरणोपरांत पद्मविभूषण से सम्मानित किया गया है। ओरल रिहाइड्रेशन (ORS) के क्षेत्र में किए गए कार्य के लिए पहचान रखनेवालेडॉक्टर दिलीप महालनाबिस ने 5 करोड़ से ज्यादा जिंदगियां बचाई थीं। इनके अलावा इस सूची में बालकृष्ण दोशी (मरणोपरांत), एस एम कृष्णा, संगीतकार जाकिर हुसैन और श्रीनिवास वर्धन के नाम भी शामिल हैं।

पद्म भूषण

 

इस साल 9 हस्तियों को पद्म भूषण के लिए चुना गया है। इनमें सुधा मूर्ति, कुमार मंगलम बिड़ला, एसएल भयरप्‍पा, दीपक धर, वाणी जयराम, स्‍वामी चिन्‍ना जीयार, सुमन कल्‍याणपुर, कपिल कपूर और कमलेश डी पटेल शामिल हैं।

इस साल 91 पद्म पुरस्कारों का ऐलान किया गया है। इस सूची में हीराबाई लोबी, मुनीश्वर चंदर डावर, राकेश राधेश्याम झुनझुनवाला (मरणोपरांत), RRR फिल्म के संगीतकार एम.एम. कीरवानी और अभिनेत्री रवीना रवि टंडन के नाम शामिल हैं। पद्मश्री पाने वाली अन्‍य हस्तियों में नगा समाजसेवी रामकुईबांवे नेवमे, वीपी अप्‍पुकुट्टन पोडुवाल,एससी शेखर, जीव कल्‍याण के क्षेत्र में सक्रिय वेदिवेल गोपाल व मोसी सदाइयन, जैविक खेती के प्रेरक तुलाराम उपरेती तथा नेकराम शर्मा भी हैं. जनुम सिंह साय, धनीराम टोटो, बी बालकृष्‍ण रेड्डी, अजय कुमार मंडावी, रानी मचैया, केसी रुनरेमसांगी, रिसिंगबोर कुरकलांग, मंगला कांति रॉय, मोआ सुबोंग, मुनीवेनकटप्‍पा, डोमार सिंह कुंवर, परसुराम कोमाजी खुने, गुलाम मोहम्‍मद ज़ाज, भानुबाई चितारा, परेश राठवा, कपिल देव प्रसाद भी शामिल हैं।

Show More
Back to top button