HOMEMADHYAPRADESH

Nude Video Call करती युवती फिर अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल, पन्ना पुलिस ने पकड़ा गिरोह

Nude Video Call करती युवती फिर अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल, पन्ना पुलिस ने पकड़ा गिरोह

Nude Video Call पहले वीडियो कॉल पर न्यूड हुई एक युवती फिर अश्लील वीडियो बनाकर सोशल मीडिया प्लेटफार्म में वायरल करने की धमकी देकर (सेक्सटॉर्सन) लोगो से रूपये ऐंठने वाले अंत्तर्राज्यीय मेवाती गैंग के 02 सक्रिय सदस्य पन्ना पुलिस ने  गिरफ्तार किया।

तीन आरोपित अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार हैं। मामले में गिरफ्तार हुए आरोपितों के खिलाफ गुनौर में अपराध पंजीबद्ध किया गया था। जिसमें अनस मेव पिता अफजल मेव 25 साल निवासी मिरचुनी थाना टपूकडा तहसील तिजारा जिला अलवर राजस्थान, यूसफ खान पिता अस्पाक खान 21 साल निवासी ग्राम उटाबड तहसील हथीन थाना उटावड जिला पलबल हरियाणा को गिरफ्तार किया गया मामले के चारों ओर फरार आरोपियों में साजिद पिता सूबेदार खान निवासी कान्हौर थाना पहारी जिला भरतपुर राजस्थान, राशिद पिता सूबेदार खान निवासी कान्हौर थाना पहारी जिला भरतपुर राजस्थान, मुस्तफा खान निवासी खेङली मन्ना थाना पहारी जिला भरतपुर राजस्थान की पुलिस तलाश कर रही है। आरोपित के कब्जे से, पुलिस को 02 मोबाइल, 01 ए.टी.एम. कार्ड, 01 लैपटॉप एवं 15 हजार नगदी जप्त की है।

वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन एवं थाना प्रभारी गुनौर निरीक्षक व्ही.के. अहिरवार व थाना प्रभारी कोतवाली पन्ना निरीक्षक अरूण कुमार सोनी के नेतृत्व पुलिस टीम गठित की जाकर उचित कार्यवाही किये जाने हेतु निर्देशित किया गया । पुलिस अधीक्षक पन्ना के निर्देशानुसार मामले में थाना गुनौर में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध धोखाधडी का अपराध कायम किया जाकर विवेचना में लिया गया है । पुलिस सायबर सेल टीम पन्ना से मिली जानकारी के आधार पर गठित पुलिस टीम द्वारा मामले में अंत्तर्राज्यीय मेवाती गैंग के 02 सक्रिय संदेही व्यक्तियों को पहाड़ी भरतपुर राजस्थान से पुलिस के हमराह गुनौर थाना पन्ना लाया जाकर पूँछताछ की गई जिन्होनें पूँछताछ पर बताया कि हम लोग महीने के हिसाब से मुस्तफा इन्टरप्राइजेज पहाड़ी भरतपुर राजस्थान में काम करते हैं । वहाँ पर तीन अन्य लोग ई-मित्र (कियोस्क बैंक) संचालित किये हैं । जो लोगो से वीडीयो कॉल पर लडकी बनकर अश्लील वीडियो वायरल करने एवं कानूनी कार्यवाही करवाये जाने को बोलकर अलग-अलग मोबइल नम्बरों से पुलिस अधिकारी एवं सोशल मीडिया अधिकारी बनकर जालसाजी कर लोगो से पैसा अलग-अलग बैंक खातो में डलवाते हैं और हम लोग वह पैसा उन बैंक खातो से निकाल कर लाते हैं उसमें से ज्यादातर पैसा वो तीनो लोग आपस में बाँट लेते है व थोड़ा पैसा हमें भी दे देते हैं ।

Show More
Back to top button