मध्‍य प्रदेश के मुस्लिम परिवार ने शादी के निमंत्रण में ईश्वर-अल्लाह दोनों का किया स्मरण

Advertisements

गुना । ‘ईश्वर-अल्लाह के नाम से हर काम का आगाज करता हूं, उन्हीं पर है भरोसा, उन्हीं पर नाज करता हूं।’ सांप्रदायिक सौहार्द की यह लाइनें किसी सादे कागज पर नहीं लिखी हैं, बल्कि एक मुस्लिम परिवार ने अपने बेटे की शादी के निमंत्रण पत्र पर छपवाई हैं। निमंत्रण में एक तरफ हिंदुओं के प्रथम पूज्य भगवान गणेश की तस्वीर प्रकाशित है तो दूसरी ओर 786 अंकित है।

यह भी पढ़ें-  बड़ी खबर: भोपाल, रीवा, इंदौर, ग्वालियर और शहडोल हॉस्पिटल में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

निमंत्रण पत्र उन्होंने हिंदू मित्रों के लिए छपवाए हैं जबकि मुस्लिम रिश्तेदारों व परिचितों को उर्दू भाषा वाले कार्ड दिए हैं। शादी का यह निमंत्रण इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है। यह परिवार है जिले की कुंभराज तहसील के मृगवास कस्बा निवासी यूसुफ खां का।

उन्होंने अपने बेटे इरफान खां की शादी में आमंत्रित करने के लिए यह निमंत्रण पत्र दिए। बुधवार शाम को इरफान दूल्हा बनकर निकाह करने के लिए पहुंचे। इस्लामी परंपरा के अनुसार निकाह हुआ। यूसुफ ने कार्ड पर लिखा है कि परमपिता परमात्मा की असीम कृपा से हमारे घर आंगन में शुभ मांगलिक प्रसंग आया है। मंगल परिणयोत्सव पर आयोजित प्रीतिभोज में आप सादर आमंत्रित हैं। कृपया पधारकर हमें अनुग्रहीत करें। यूसुफ खां का कहना है कि बचपन में उन्होंने गांव के गायत्री मंदिर में पढ़ाई की, तो मरहूम पिता हुस्न खां रामायण और कुरान दोनों पढ़ते थे। उन्होंने सांप्रदायिक सौहार्द को बढ़ावा देने के लिए ये कार्ड वितरित किए थे।

Enable Notifications    OK No thanks