मध्यप्रदेश में कोरोना का बड़ा ब्लास्ट एक साथ निकले 4043 पॉजिटिव , जारी हुए ये आदेश

Advertisements

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर ने अप्रैल के पहले सप्ताह में
ही सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए है। संडे लॉकडाउन (Lockdown 2021) और नाइट कपy के बावजूद
मध्यप्रदेश (MP) में पिछले 24 घंटे में 4043 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है और 13 की
मौत हो गई।चौंकाने वाली बात तो ये है कि भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर के बाद अब
बड़वानी, उज्जेन और उमरिया में भी 100 से अधिक केस मिले हैं, जो की चिंता का विषय बन
गया है।

स्वास्थ्य विभाग के सुत्रों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में MP में 4043 नए कोरोना पॉजिटिव सामने
आए है।इसमें इंदौर में 866, भोपाल में 618, जबलपुर में 269, ग्वालियर में 181, उज्जैन में
123, बड़वानी में 108 और उमरिया में 114 नए केस सामने आए है और 13 ने दम तोड़ दिया।
इसमें बाकी जिलों में 1-1 और इंदौर में 4 की मौत हुई है। इन आंकड़ों के बाद MP में एक्टिव
केसों की संख्या 26,059 हो गई है। हर दिन आ रहे कोरोना के नए मामले को देखे तो मध्यप्रदेश
देश का 6वां ऐसा प्रदेश बन गया है जहां सबसे तेजी से एक्टिव केस आ रहे है।
MP में तेजी से बढ़ रहे आंकड़ों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh
Chauhan) ने चिंता जाहिर की है। सीएम ने कहा कि कोविड संक्रमण पर प्रभावी रोकथाम के
लिए लोकहित में छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) राज्य से आने-जाने वाली यात्री बस वाहनों का
परिवहन 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। मास्क न पहनना पाप करने के समान
है। मास्क न पहनना अपराध की श्रेणी में आएगा और ऐसा करने वालों के विरूद्ध सख्ती की
जाएगी।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि साप्ताहिक हाट बाजार को अस्थायी रूप से बंद करने पर विचार
किया जाना चाहिये।हर जिले में कोविड मित्र डेस्क की स्थापना की जानी चाहिए।निजी
चिकित्सालयों को कोविड के रेपिड एंटीजन टेस्ट एवं RT-PCR की अनुमति प्रदान की जानी
चाहिए।राज्य सरकार महिला स्व-सहायता समूहों एवं जीवन शक्ति योजना की महिला उद्यमियों
के माध्यम से 10 लाख मास्क बनाकर उसका जनता में वितरण करवाएगी।
सीएम ने कहा कि MP के सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता की लगातार निगरानी
की जायेगी। प्रदेश भर में “मेरी सुरक्षा-मेरा मास्क ” अभियान निरंतर संचालित किया जायेगा और
इसके माध्यम से प्रदेश की सुरक्षा के लिए सभी को मास्क पहनने का आह्वान किया जायेगा।
सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि आयुष्मान भारत योजना के हितग्राहियों का सभी पात्र
अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज हो। प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में दवायें, चिकित्सा जांच
और स्वास्थ्य अमले की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी।
सीएम ने कहा कि भारत सरकार (Indian Government) से इस सप्ताह मध्यप्रदेश को 350
वेंटिलेटर प्राप्त हो रहे हैं। वर्तमान बेड क्षमता करीब 24,000 है जिसे बढ़ाकर इसी सप्ताह
36,000 कर दिया जाएगा।प्रदेश के जिन जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना का प्रभाव बढ़ रहा है
वहां “किल कोरोना-2” अभियान प्रारंभ किया जायेगा। इसके अंतर्गत घर-घर जाकर सर्वे करते
हुए संभावित मरीजों को चिन्हित किया जायेगा।

Enable Notifications    OK No thanks