HOMEराष्ट्रीय

Mobile Gaming App Case बंगाल में फिर मिला नोटों का पहाड़, पढ़ कर रह जाएंगे हैरान

Mobile Gaming App Case बंगाल में फिर मिला नोटों का पहाड़, पढ़ कर रह जाएंगे हैरान

AD

Mobile Gaming App Case: बंगाल में ईडी की कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में अब मोबाइल गेमिंग एप के माध्यम से ठगी व मनी लांड्रिग से जुड़े मामले में ईडी ने शनिवार सुबह से कोलकाता में छह जगहों पर घंटों छापामारी की। इस दौरान गार्डेनरीच इलाके में निसार अहमद खान नामक एक ट्रांसपोर्टर के घर से 17 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी बरामद हुई है। इतना ही नहीं, और भी नकदी मिलने का अनुमान है, क्योंकि खबर लिखे जाने तक नोटों की गिनती का काम जारी था।

AD

निसार के बेटे आमिर खान पर मोबाइल गेमिंग एप के जरिये ठगी का आरोप है। कारोबारी के मकान की पहली मंजिल पर स्थित बेडरूम में पलंग के नीचे प्लास्टिक के पैकेट में पैक करके बैग में ये रुपये रखे गए थे। ज्यादातर 500 व 2000 रुपये के नोटों के बंडल हैं। नोटों की संख्या इतनी कि गिनने के लिए बैंक से नौ मशीनें मंगाई गईं। गार्डेनरीच के अलावा पार्क स्ट्रीट, मैकलियोड स्ट्रीट और मोमिनपुर सहित कई जगहों पर भी ईडी की घंटों छापामारी चली।

इस तरह की गई धोखाधड़ी, फेडरल बैंक ने दर्ज कराई थी शिकायत

 

इस मामले में फेडरल बैंक द्वारा महानगर की बैंकशाल अदालत में दायर शिकायत के आधार पर मुख्य दंडाधिकारी के निर्देश पर मुख्य आरोपित आमिर खान व अन्य के खिलाफ कोलकाता पुलिस द्वारा पार्क स्ट्रीट थाने में पिछले साल 15 फरवरी को मामला दर्ज किया गया था। आरोप है कि आमिर ने आनलाइन ठगी के लिए ई-नगेट्स नामक एक मोबाइल गेमिंग एप लांच किया था। प्रारंभिक अवधि के दौरान उपयोगकर्ताओं को कमीशन के साथ पुरस्कृत किया गया था और वालेट में शेष राशि को सीधे निकालने की अनुमति थी।

शुरू में विश्वास जीतने के बाद और अधिक कमीशन का लालच दिया गया, जिससे बड़ी मात्रा में उपयोगकर्ताओं ने निवेश किया। आरोप है कि लोगों से अच्छी-खासी रकम वसूल करने के बाद अचानक ही उक्त एप से सिस्टम अपग्रेडेशन, एलईए द्वारा जांच आदि का बहाना बनाकर निकासी रोक दी गई। इसके बाद प्रोफाइल जानकारी सहित सभी डेटा को भी एप के सर्वर से हटा दिया गया। इसके बाद उपयोगकर्ताओं को चाल समझ में आई। जांच में ईडी को पता चला है कि उक्त संस्था नकली खातों का इस्तेमाल कर रही थी।

AD
Show More
Back to top button