स्टेशन पर लगेंगी स्वचलित एटीवीएम मशीन

Advertisements
कटनी। अनारक्षित टिकट लेने में यात्रियों को होने वाली परेशानियोंं को ध्यान में रखकर रेलवे ने जबलपुर रेल मंडल के कई स्टेशनों में स्वचलित एटीवीएम मशीन लगाने का निर्णय लिया है। जिसमें जबलपुर सहित कटनी भी शामिल है। जरा सोचिए आप का सफर करना जरूरी हो और प्लेटफार्म पर खड़ी ट्रेन छूटने वाली हो, ऐसे में आप जैसे ही टिकट काउंटर की तरफ  बढ़ें सामने लंबी कतार नजर आए, तो सोचें क्या करेंगे। जाहिर सी बात है मजबूरी में ट्रेन में सवार हो जाएंगे लेकिन रास्तेभर बिना टिकट पकड़े जाने का भय सताता रहेगा। चेकिंग के दौरान सह यात्रियों के बीच बिना टिकट यात्रा करते पकड़े जाने पर अपमानित होने की आशंका भी बनी रहेगी। यात्रियों को इन्हीं परेशानियों को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने जबलपुर रेल मंडल के जबलपुर व कटनी सहित कई रेलवे स्टेशनों के प्लेटफार्म पर कैश एटीवीएम मशीन लगाने का फैसला लिया है। जिसकी मदद से पैसेंजर खुद ही अपना रूट तयकर मशीन में पैसे डालकर टिकट ले सकेगा। इस काम में 1 मिनट से भी कम का समय लगेगा। कटनी में 3 से 4 मशीनें इस महीने के अंत तक लगने की संभावना है। रेलवे ने जबलपुर व कटनी समेत 5 अन्य स्टेशनों पर भी यह मशीन लगाने की तैयारी कर ली है। दरअसल रेलवे ने चेकिंग के दौरान अनाधिकृत पैसेंजर्स से टिकट न लेने का कारण पूछा तो 70 फीसदी ने जवाब दिया कि काउंटर पर भीड़ की वजह से वह टिकट नहीं ले सके। इसी को ध्यान में रखते हुए एटीवीएम लगाने का निर्णय लिया गया है। जबलपुर मंडल में ऐसी लगभग 20 से 22 मशीन लगाई जा रही हैं। जिसमें जबलपुर, कटनी, सागर, दमोह, मैहर, सतना, रीवा, पिपरिया, बनखेड़ी समेत कई स्टेशन चुने गए हैं।                                                                                                              ऐसे काम करेगी मशीन

अनरिजर्व टिकट लेने के लिए पैसेंजर को मशीन की स्क्रीन पर पहले और आखिरी स्टेशन के सामने क्लिक करना होगा। जिसके बाद किराया शो करने लगेगा। पैसेंजर को सिर्फ  मशीन के सामने बने कैश रिसीवर विंडों पर रुपए रखना होगा। रुपया मशीन में जाते ही टिकट बाहर आ जाएगी।
अभी यह है व्यवस्था
अभी एटीवीएम मशीन लगी हैं लेकिन इसमें एक कर्मचारी को खड़ा किया गया है जो आप को टिकट दे देता है। कई बार कर्मचारी मशीन के सामने नहीं होता और काउंटर पर भीड़ भी होती है। नई व्यवस्था के बाद यात्रियों को राहत मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Notifications    OK No thanks