HOMEराष्ट्रीय

Maharashtra Crisis बोरिया बिस्तर लेकर CM HOUSE से निकले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

Maharashtra Crisis बोरिया बिस्तर लेकर CM HOUSE से निकले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

Maharashtra Crisis बोरिया बिस्तर लेकर CM HOUSE से निकले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मातोश्री पहुंच गए। कयास है कि वह इस्तीफा दे सकते हैं।

AD

महाराष्ट्र में सियासी घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है। शिवसेना के दिग्गज नेता एकनाथ शिंदे ने बड़ी बगावत कर दी है, जिसके कारण उद्धव ठाकरे सरकार पर संकट मंडरा रहा है। शिवसेना के बागी विधायकों को बुधवार सुबह असम की राजधानी गुवाहाटी लाया गया। बकौल एकनाथ शिंदे, उनके साथ शिवसेना के 40 विधायक मौजूद हैं। इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव के जरिए जनता से बातचीत की और शिवसैनिकों से गद्दारी ना करने की अपील की। वहीं देस शाम मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सरकारी आवास वर्षा बंगले को भी खाली कर दिया और सामान समेत मातोश्री शिफ्ट हो गये।

सरकार पर संकट के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अभी तक हार नहीं मानी है। शिवसेना के नेता संजय राउत ने साफ कहा कि उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने रहेंगे और जरुरत पड़ी फ्लोर पर टेस्ट के लिए तैयार हैं। वैसे सीएम ने देर रात मुख्यमंत्री आवास खाली कर दिया है। ऐसे में उनके पद छोड़ने के संकेत मिल रहे हैं।

उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव पर जनता को संबोधित करते हुए शिवसैनिकों से भावुक अपील की। उन्होंने कहा कि अगर कोई मुझे मुख्यमंत्री पद पर नहीं देखना चाहता, तो सामने आकर ये बात कहे। मैंने इस्तीफा तैयार रखा है। लेकिन किसी भी मुश्किल परिस्थिति में मैं हार नहीं मानूंगा। उन्होंने एकनाथ शिंदे गुट पर तंज कसते हुए कहा कि पेड़ को जिस कुल्हाड़ी से काटा जाता है, उसमें उसी की लकड़ी लगी होती है। वही स्थिति आज पैदा हुई है। फिलहाल सीएम ठाकरे शरद पवार से मिलकर सरकार बचाने के विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक बागी विधायकों ने एकनाथ शिंदे को अपना नेता चुन लिया है। शिवसेना विधायक दल का प्रस्ताव पारित हुआ, जिसमें 34 विधायकों के हस्ताक्षर हैं। एकनाथ शिंदे के शिवसेना विधायक दल के नेता के रूप में बने रहने को लेकर 34 विधायकों के हस्ताक्षर वाले शिवसेना विधायक दल के प्रस्ताव को राज्यपाल के पास भेजा गया है। एकनाथ शिंदे 2019 में सर्वसम्मति से शिवसेना विधायक दल के नेता के रूप में चुने गए थे और अब भी वे शिवसेना विधायक दल के नेता बने रहेंगे। भारत गोगावाले को मुख्य सचेतक नियुक्त किया गया है। उधर, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष 4 विधायकों को लेकर सूरत पहुंच गये हैं। यहां से वो गुवाहाटी जाएंगे।

AD
Show More

Related Articles

Back to top button