Fastag: 1 जनवरी से टोल प्लाजा को पार नहीं कर सकेंगे बिना फास्टैग वाले वाहन

अगले वर्ष 1 जनवरी से बिना फास्टैग लगे वाहनों को राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल प्लाजा से पास नहीं होने दिया जाएगा। जिन चालकों की गाड़ियों में फास्टैग नहीं होगा, उनसे नकद दोगुना टैक्स वसूला जाएगा, साथ ही वहीं पर फास्टैग खरीदवाया जाएगा। इस आशय के दिशा-निर्देश सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने देशभर में फैली नेशनल हाईवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआइ) की इकाइयों को जारी किए हैं। मंत्रालय ने कहा है कि इस हिसाब से सभी इकाइयां टोल वसूलने वाली कंपनियों को तैयारियां करने के निर्देश दें।
मंत्रालय पहले ही फैसला ले चुका है कि एक जनवरी 2021 से राष्ट्रीय राजमार्गों की सभी लेन फास्टैग लेन होंगी और कहीं भी नकद लेन नहीं होगी। अब तक राष्ट्रीय राजमार्गों पर दोनों दिशाओं में एक-एक लेन नकद के लिए रखी जाती है, लेकिन नए साल से उसे भी बंद करने की तैयारी है। इसके लिए एनएचएआइ की स्थानीय इकाइयां संबंधित जिला और पुलिस प्रशासन से भी समन्वय करेंगी, ताकि कहीं भी कानून व्यवस्था न बिगड़े। प्रशासन को 1 जनवरी से लागू की जा रही नई व्यवस्था के बारे में अवगत कराया जाएगा, ताकि जरूरत पड़ने पर उनसे मदद ली जा सके।
आधिकारिक सूत्र मान रहे हैं कि 1 जनवरी से राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल प्लाजा पर फास्टैग लगवाने वालों की कतारें लग सकती हैं। इससे दूसरे वाहन चालकों को भी परेशानी हो सकती है और टोल प्लाजा पर फास्टैग बेचने के लिए बनाए गए काउंटर पर भी लोगों की भीड़ बढ़ने का अंदेशा है। कोरोना काल के कारण फास्टैग खरीदने आए लोगों से प्रोटोकॉल का पालन कराने को कहा गया है। इस संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि काउंटरों पर मांग के अनुसार फास्टैग उपलब्ध हों।