Single-dose Sputnik Light: स्पूतनिक लाइट के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी

Single-dose Sputnik Light: कोरोना के खिलाफ देश में जारी टीकाकरण अभियान को अब और मजबूती मिलेगी. महामारी के खिलाफ जारी जंग में भारत को एक और टीके की ताकत मिल गई है. ड्रग्‍स कंट्रोलर जनल ऑफ इंडिया (DCGI) ने सिंगल डोज स्‍पूतनिक लाइट वैक्‍सीन के इमरजेंसी इस्‍तेमाल को मंजूरी दे दी है. भारत में कोरोना के खिलाफ जारी जंग में यह 9वां टीका होगा.

DCGI has granted emergency use permission to Single-dose Sputnik Light COVID-19 vaccine in India.

This is the 9th #COVID19 vaccine in the country.

This will further strengthen the nation’s collective fight against the pandemic.

स्पूतनिक लाइट के इमरजेंसी इस्तेमाल मंजूरी

स्पूतनिक लाइट के इमरजेंसी इस्तेमाल के बारे में केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मनसुख मांडविया ने रविवार को जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘DCGI ने भारत में सिंगल डोज स्‍पूतनिक लाइट कोविड-19 वैक्‍सीन के इमरजेंसी इस्‍तेमाल की अनुमति दे दी है. यह कोविड के खिलाफ देश में लगाई जा रही 9वीं वैक्‍सीन है. इससे महामारी से लड़ने में देश के सामूहिक प्रयास को और ताकत मिलेगी.

कोरोना के खिलाफ 93.5 फीसदी प्रभावी

बता दें दि स्पूतनिक लाइट सिंगल डोज़ वैक्सीन है. जिसकी सिर्फ 1 डोज़ ही कोरोना के खिलाफ प्रभावी है. स्पूतनिक लाइट की सिंगल डोज ही कोरोना के खिलाफ 93.5 फीसदी प्रभावी है.

स्पूतनिक लाइट का बूस्टर डोज खासी प्रभावी

विशेषज्ञों के अनुसार यह बूस्टर डोज के तौर पर भी बेहद प्रभावी है. स्पूतनिक लाइट वैक्सीन का बूस्टर डोज 6 महीने में लगाने पर ओमिक्रॉन के खिलाफ 100% प्रभावशाली साबित हुआ है.