MP में हुमांयू, बाबर, अकबर के नाम निशान मिटा दिए जाएंगे

टीकमगढ़ चिकित्सा शिक्षा मंत्री एवं टीकमगढ़ जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि मध्य प्रदेश से गुलामी के सारे चिह्न मिटाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी नाम जो हमें गुलामी की याद दिलाते हैं, उन्हें बदला जाएगा। इसीलिए होशंगाबाद का नाम बदलकर नर्मदापुरम किया गया है। शुक्रवार को टीकमगढ़ के दौरे पर प्रभारी मंत्री ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि भोपाल का नाम बदलने के लिए भी हम लगातार लड़ाई लड़ रहे हैं। इसके लिए मैं काफी दिनों से प्रयासरत हूं। अब भोपाल का नाम बदलकर भोजपाल करने का प्रयास करेंगे। टीकमगढ़ अपने आप में अपना ऐतिहासिक महत्व रखता है, यहां स्वयंभू भूतेश्वर भगवान शंकर विराजमान है। कालांतर में इसका नाम शिवपुरी पड़ गया था। साथ ही राजस्व ग्राम के रूप में भी शिवपुरी अंकित हो गया था, लेकिन अब ग्राम पंचायत शिवपुरी की पहचान कुंडेश्वरधाम से होगी। आज से इसका नाम कुंडेश्वरधाम होगा। राजस्व रिकार्ड में भी नाम अब कुंडेश्वरधाम अंकित होगा

हुमांयू, बाबर, अकबर के नाम निशान मिटा दिए जाएंगे’

उधर भोपाल की हुजूर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने होशंगाबाद का नाम बदलने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार जताया है। इसी के साथ उन्होंने औबेदुल्लागंज का नाम बदलकर रामगंज करने और भोपाल के शाहजहांनाबाद क्षेत्र का नाम बदलने की मांग भी की है। विधायक ने कहा कि आजादी का 75वां अमृत महोत्सव चल रहा है। गुलामी के सारे कलंक मिटाए जा रहे हैं। यह स्वागत योग्य निर्णय है। उन्होंने कहा कि हुमांयू, बाबर, अकबर और औरंगजेब लुटेरे थे। इनके नाम और निशान मिटा दिए जाएंगे। विधायक ने कहा औबेदुल्लागंज और शाहजहांनाबाद के नाम बदलकर गुलामी के सभी चिन्ह हटाए जाने चाहिए।