Lokayukt Trap BMO ये हैं फ्रंट लाइन वर्कर, BMO ले रहे थे 10 हजार की रिश्वत, लोकायुक्त ने दबोचा

Lokayukt Trap BMO कोविड काल मे सबसे ज्यादा कोई फ्रंट लाइन वर्कर के रूप में प्रशंसा का पात्र बना तो वो थे डॉक्टर, पर कुछ ऐसे भी डॉक्टर हैं जो लालच से इस पेशे पर कलंकित भी करते दिखे। बहरहाल आज एक बीएमओ (ब्लाक मेडिकल ऑफिसर) को लोकायुक्त ने रंगे हाथ पकड़ा जो बिल पास करने के एवज में रिश्वत ले रहे थे।

जानकारी के अनुसार आज 31/01/2022 को प्रार्थी सोहन श्रीवास्तव निवासी चौरई जिला छिंदवाड़ा की शिकायत पर लोकायुक्त टीम जबलपुर के द्वारा  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जुन्नारदेव में पदस्थ ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर BMO आर.आर. सिंह को 10000 की रिश्वत लेते हुए बीएमओ कार्यालय में रंगे हाथों पकड़ा गया आवेदक से उसके वाहन के 1,20,000 रुपए के  बिल पास करने के एवज में ₹15000 की रिश्वत मांगी गई थी आज दिनांक को ₹10000 रुपए लेकर आरोपी के द्वारा अपने कार्यालय बुलाया गया था

लोकायुक्त के इस ट्रेप दल में उप पुलिस अधीक्षक श्री दिलीप झरबड़े निरीक्षक स्वप्निल दास, भूपेंद्र दीवान आरक्षक गोविंद राजपूत, विजय बिष्ट, अमित मंडल चालक राकेश विश्वकर्मा शामिल की भूमिका महत्वपूर्ण थी।