HOMEMADHYAPRADESHराष्ट्रीय

School Closed 2022: अधिकांश राज्यों में 31 जनवरी तक स्कूल बंद

School Closed 2022 फरवरी में बजेगी घंटी, कर्नाटक: 10वीं 12वीं को छोड़कर सभी कक्षाओं के लिए दो सप्ताह के लिए स्कूल बंद

School Closed 2022: कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जनवरी में एक बार फिर स्कूल बंद कर दिए गए थे। अधिकांश राज्यों में 31 जनवरी तक स्कूल बंद है। अच्छी खबर यह है कि स्कूल खोलने को लेकर माहौल बनने लगा है। जहां-जहां केस कम हो रहे हैं, वहां स्कूल खोलने जा रहे हैं। महाराष्ट्र, हरियाणा, तमिलनाडु उन राज्यों में शामिल हैं जहां 1 फरवरी से फिर स्कूलों की घंटी बजने लगेगी। वहीं कुछ राज्य अभी इंतजार कर रहे हैं। मध्य प्रदेश सरकार जल्द ही मीटिंग करेगी। यूपी में 6 फरवरी तक स्कूल बंद हैं।

AD

इससे पहले उत्तराखंड में 31 जनवरी तक स्कूल बंद रखने का फैसला हो चुका है। उत्तराखंड सरकार ने बढ़ते COVID-19 मामलों को देखते हुए कक्षा 12 तक के सभी स्कूलों, आंगनवाड़ी केंद्रों को बंद करने की घोषणा की है। साथ ही प्रदेश में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात के कर्फ्यू का ऐलान किया गया है। 12 वीं कक्षा तक के सभी आंगनवाड़ी केंद्र और शैक्षणिक संस्थान बंद हैं, ऑनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी।

School Closed in UP: यूपी में 6 फरवरी तक स्कूल बंद

यूपी में सभी स्कूलों को अब 6 फरवरी तक बंद रखने का आदेश दिया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने पहले 14 जनवरी तक प्राइमरी, बेसिक व माध्यमिक स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया था। इसके बाद 22 जनवरी तक डिग्री कालेज तथा यूनिवर्सिटी को बंद किया गया। फिर इसको बढ़ाकर 30 जनवरी तक कर दिया गया था। नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ सहित पूरे यूपी में इस गाइडलाइन का सख्ती से पालन किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि सरकार ने कोरोना के चलते राहत देते हुए स्कूलों को बंद करने का ऐलान किया है, सिर्फ ऑनलाइन क्लासेज ही लगेंगी। गौरतलब है कि यूपी सरकार ने 31 दिसंबर से 16 जनवरी तक स्कूलों में शीतकालीन अवकाश घोषित किया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 23 जनवरी कर दिया गया था। अब इसे बढ़ाकर 30 जनवरी कर दिया गया है। विधानसभा चुनाव के लिए शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों का स्कूल आना अनिवार्य है।

यूपी ही नहीं, अब तक एमपी, छत्तीसगढ़, हरियाणा, राजस्थान पश्चिम बंगाल समेत 15 राज्यों में स्कूल बंद करने का फैसला हो चुका है। तमिलनाडु, महाराष्ट्र, दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान सहित राज्यों ने विश्वविद्यालयों को ऑनलाइन कक्षाओं की अनुमति दी है। मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना केस देखते हुए 31 जनवरी तक सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। बच्चे स्कूल नहीं जाएंगे, लेकिन ऑनलाइन क्लासेस जारी रहेंगी। केरल में भी नौवीं तक की कक्षाएं बंद हैं।

वहीं गुजरात के 10 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है और सभी स्कूलों तथा कॉलेज को 31 जनवरी तक बंद कर दिया गया है। गुजरात में इन प्रतिबंधों को मिनी लॉकडाउन बताया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के अनुसार, अहमदाबाद, आनंद, भावनगर, गांधीनगर, जामनगर, जूनागढ़, नडियाद, राजकोट, सूरत और वडोदरा में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात का कर्फ्यू लागू रहेगा।

कुल मिलकर बच्चे एक बार फिर घरों में कैद हो गए हैं और आशंका जताई जा रही है कि जनवरी के साथ पूरे फरवरी माह में स्कूल बंद रह सकते हैं। कहा जा रहा है कि कोरोना के नया वेरिएंट ओमिक्रोन फरवरी में पीक पर होगा।

School Reopen in MP मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा 31 जनवरी को करेंगे स्कूल खोलने की समीक्षा
Schools Closed: State wise updates

कर्नाटक: 10वीं 12वीं को छोड़कर सभी कक्षाओं के लिए दो सप्ताह के लिए स्कूल बंद।

दिल्ली: सभी स्कूल 3 जनवरी से अगले अपडेट तक बंद, कॉलेज तत्काल प्रभाव से बंद कर दिए गए क्योंकि सरकार ने बढ़ते मामलों पर येलो अलर्ट जारी किया है।

हरियाणा: 30 जनवरी तक सभी स्कूल, कॉलेज बंद

महाराष्ट्र: मुंबई में स्कूल 31 जनवरी तक बंद। हालांकि जल्द स्कूल खोलने का फैसला हो सकता है।

तमिलनाडु: कक्षा 1 से 8 तक के लिए स्कूल बंद, कक्षा 9 से 12 के लिए संशोधित दिशानिर्देश जारी।

ओडिशा: प्राथमिक कक्षाओं को फिर से खोलना अगली सूचना तक स्थगित।

पश्चिम बंगाल: स्कूल, कॉलेज अगली सूचना तक बंद।

बिहार: कक्षा 8 तक के सभी स्कूल बंद, 50% क्षमता के साथ 9 से 12 के लिए ऑफलाइन कक्षाएं।

झारखंड: सभी स्कूल, कॉलेज बंद।

गोवा: 26 जनवरी तक सभी स्कूल, कॉलेज बंद।

छत्तीसगढ़: 4% या उससे अधिक की सकारात्मकता दर वाले जिलों में स्कूल अगली सूचना तक बंद।

 

बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुंबई के सभी स्कूलों को 31 जनवरी तक बंद रखने का आदेश दिया गया है (Mumbai School Closed), सिर्फ 10वीं और 12वीं की ही कक्षाएं चलेंगी। महाराष्ट्र के अन्य जिलों से खबर है कि यहां स्कूल-कॉलेज फिर से बंद करने पर एक बार फिर फैसला हो सकता है। महाराष्ट्र देश के उन राज्यों में शामिल है जहां ओमिक्रोन से सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगले 15 दिन में इस बारे में फैसला हो सकता है। उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री बेटे आदित्य ठाकरे ने भी कहा है कि लोग घरों में रहें और कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। इससे पहले प्रदेश की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ कह चुकी हैं कि यदि ओमिक्रोन के केस बढ़ते हैं तो स्कूल फिर से बंद किए जा सकते हैं। हालांकि इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

AD
Show More

Related Articles

Back to top button