HOME

Namaj: अब कक्षा में नमाज: कर्नाटक के सरकारी स्कूल का मामला, हिंदू समूह की आपत्ति के बाद जांच के आदेश

Namaj

Namaj कर्नाटक के स्कूलों में बुर्का व भगवा दुपट्टे को लेकर हुए विवाद के बाद अब एक सरकारी स्कूल की कक्षा में नमाज को लेकर बवाल पैदा हो गया है। एक हिंदू वादी संगठन को पता चला कि कर्नाटक के कोलार जिले के एक सरकारी स्कूल की कक्षा में छात्र नमाज पढ़ते हैं। इस पर हंगामे के बाद मामले में जिला कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए हैं।

AD

मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि कोलार के इस सरकारी स्कूल की प्रधान अध्यापिका ने 20 विद्यार्थियों को हर शुक्रवार को कक्षा में नमाज पढ़ने की इजाजत दी है। इसकी खबर जब हिंदू संगठन को लगी तो उन्होंने इसका विरोध किया और फिर नमाज का सिलसिला रोका गया।

हिंदू संगठन के विरोध प्रदर्शन के बाद कोलार के कलेक्टर उमेश कुमार ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। कक्षा में नमाज की यह घटना मुलबागल सोमेश्वर पालया बाले चेंगप्पा सरकारी कन्नड आदर्श हाईस्कूल में हुई थी। इस बीच राज्य के लोक निर्देश विभाग के उप निदेशक रेवन्ना सिद्दप्पा को स्कूल जाकर मामले की जांच करने और रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया है।

 

Namaj दो माह से कक्षा में पढ़ रहे नमाज

स्कूल के एक विद्यार्थी का कहना है कि दो माह पहले जब स्कूल खुला था, तब से हम स्कूल की प्रधान अध्यापिका की इजाजत से कक्षा में नमाज पढ़ रहे हैं।

 

Namaj मैंने इजाजत नहीं दी: प्रधान अध्यापिका

जब कक्षा में नमाज का मामला सामने आया और बवाल मचा तो स्कूल की प्रधान अध्यापिका उमा देवी ने इसकी इजाजत दिए जाने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। मैंने इजाजत नहीं दी है। विद्यार्थियों ने खुद ही नमाज पढ़ना शुरू कर दिया था। उधर, सूत्रों का कहना है कि विद्यार्थी जुमे की नमाज पढ़ने बाहर नहीं जाएं, इसलिए प्रधान अध्यापिका ने इसकी इजाजत दी थी। बहरहाल जांच के बाद ही सचाई सामने आएगी।

AD
Show More

Related Articles

Back to top button