GwaliorMADHYAPRADESHशहर

Dacait Gudda Gurjar इनामी डकैत गुड्डा गुर्जर से पुलिस की एक बार फिर मुठभेड़, पर भागने में कामयाब

Dacait Gudda Gurjar इनामी डकैत गुड्डा गुर्जर से पुलिस की एक बार फिर मुठभेड़, पर भागने में कामयाब

Dacait Gudda Gurjar मध्यप्रदेश में वैसे तो डकैतों का लगभग सफाया हो चुका है लेकिन कुछ डकैत अभी भी पुलिस की नाक में दम किये हैं इन्ही में से एक नाम है गुड्डा गुर्जर का जो कल फिर भागने में कामयाब हो गया।

मुरैना पुलिस के लिए सिरदर्द बने 60 हजार के इनामी डकैत गुड्डा गुर्जर से पुलिस की एक बार फिर मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से ताबड़तोड़ गोलियां चली लेकिन, डकैत गुड्डा गोलियों की बौछार के बीच पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। नूराबाद पुलिस ने डकैत गुड्डा पर हत्या के प्रयास का मामला भी दर्ज किया है।

नूराबाद पुलिस को गुरुवार की देर शाम सूचना मिली की डकैत गुड्डा गुर्जर दुरावली गांव में आया है।मूल रूप से नूराबाद थाना क्षेत्र के लोहागढ़ गांव निवासी गुड्डा गुर्जर के गांव के पास ही दुरावली गांव है जहां उसका पुराना साथी रामनिवास उर्फ खलीफा गुर्जर का घर है। बताया गया है कि गुरुवार को खलीफा गुर्जर के यहां शादी का कोई कार्यक्रम था, इसमें गुड्डा गुर्जर अपनी गैंग के साथ खाना खाने आया था। रात 9:15 बजे के करीब गुड्डा गुर्जर अपने साथियों सहित खाना खाने के बाद लौट कर जा रहा था तभी, पुलिस ने दुरावली गांव के पास उसे घेर लिया।

नूराबाद टीआई आरती चराटे की अगुवाई में पुलिस टीम ने डकैतों को घेरा और हथियार डालने को कहा लेकिन, डकैतों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में पुलिस ने भी गोलियां बरसाना शुरू कर दिया।बताया गया है कि दोनों ओर से करीब 35 गोलियां चली है जिसमें, पुलिस के हाथ डकैतों का एक झोला लगा है जिसमें, कुछ गर्म कपड़े और खाने-पीने का सामान है। डकैत गुड्डा गुर्जर और उसके साथी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गए।

6 महीने में दूसरी बार पुलिस को चकमा दिया

मुरैना में पति ने पत्नी काे डंडाें से पीट-पीटकर मार डाला, रात भर शव के पास बैठा रहा, सुबह खुद बुलाई पुलिस
डकैत गुड्डा गुर्जर ने 6 महीने के भीतर मुरैना पुलिस को दूसरी बार चकमा दिया है। करीब 6 महीने पहले गुड्डा गुर्जर का मुरैना पुलिस के साथ आमना-सामना जौरा के पगारा क्षेत्र में हुआ था जहां, पुलिस की गोलियों से बचकर डकैत गुड्डबगुर्जर जंगल में भाग गया। उसके बाद डकैत गुड्डा गुर्जर ने एक चरवाहे का अपहरण किया और फिर तेल मिल के मालिक से 50 हजार टेरर टैक्स भी मांगा। लगातार घटनाएं कर रहे गुड्डा गुर्जर का आमना सामना फिर पुलिस से हुआ और हमेशा की तरह पुलिस के हाथ कुछ नहीं आया।

 

डकैत गुंडा गुर्जर की गैंग के साथ पुलिस का आमना सामना दुरावली गांव के पास हुआ है।दोनों ओर से फायरिंग हुई लेकिन, डकैत अंधेरे फायदा उठाकर भाग गए। डकैत गुड्डा पर 307 का मामला दर्ज किया गया है।

आरती चराटे. टीआई, नूराबाद

यह भी पढ़ें-  Katni Stone Art: शिल्पकारों द्वारा उकेरी गई ऐतिहासिक कलाकृतियां अब प्रदेश की राजधानी की शोभा बढ़ा रही
Show More

Related Articles

Back to top button