HOMEराष्ट्रीय

LIVE Kashi Vishwanath Corridor पीएम मोदी ने गंगा में लगाई डुबकी, देखिए काशी दौरे का फोटो

LIVE Kashi Vishwanath Corridor पीएम मोदी ने गंगा में लगाई डुबकी, देखिए काशी दौरे का फोटो

Advertisements

LIVE Kashi Vishwanath Corridor: आज देश ही नहीं, पूरी दूनिया के हिंदुओं की नजर काशी पर टिकी है। कुछ ही घंटों बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के नए स्वरूप (Kashi Vishwanath Corridor) को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। पीएम मोदी करीब 10.30 बजे काशी पहुंचे। परंपरा अनुसार सबसे पहले कालभैरव मंदिर में दर्शन किए। प्रधानमंत्री 10:30 बजे वाराणसी एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से शहर के लिए प्रस्थान कर गए। यहां से वो कालभैरव मंदिर गए। प्रधानमंत्री को वाराणसी एयरपोर्ट से हेलीकाप्टर द्वारा जाना था लेकिन एकाएक प्रोटोकाल में परिवर्तन किया गया। यहां दर्शन-आरती करने के बाद 1 बजे काशी विश्वनाथ के मंदिर में माथा टेकेंगे। दोपहर 1.20 बजे काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे। शाम 6 बजे गंगा आरती में हिस्सा लेंगे। नीचे देखिए फोटो वीडियो

फोटो: पीएम मोदी ने गंगा में डुबकी लगाई। यहीं से जलभरकर वे काशी विश्वनाथ को अर्पित करेंगे।

Image

Image

Image

Image

Image

Image

Image

 

naidunia

naidunia

naidunia

naidunia

 

 

 

 

Kashi Vishwanath Corridor: All you need to know

Kashi Vishwanath Corridor का दायरा बढ़ाकर 5,27,734 वर्ग फुट कर दिया गया है। इस आयोजन के लिए बनारस को दुल्हन की तरह सजाया गया है। कहा जा रहा है कि पीएम मोदी का एक बड़ा सपना पूरा हो रहा है। सभी ज्योतिर्लिंगों के प्रतिनिधियों सहित देश भर के 150 से अधिक धर्मगुरु, संत-महंत और प्रबुद्ध लोग इस ऐतिहासिक क्षण के साक्षी बनेंगे। भाजपा शासित प्रांतों के 10 मुख्यमंत्रियों, सात उपमुख्यमंत्रियों सहित देश भर के राजनेता भी शामिल होने जा रहे हैं। जन आस्था के शीर्ष केंद्र के इस ऐतिहासिक कार्यक्रम से पूरे देश को जोड़ने के लिए 51,000 जगहों पर एलईडी स्क्रीन तैयार हैं।

Kashi Live: सबसे पहले शहर कोतवाल के दर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काशी में दो दिवसीय प्रवास के लिए सोमवार को सुबह 11 बजे पहुंचना है। काशी की परंपरा के अनुसार सबसे पहले शहर कोतवाल कालभैरव की पूजा करने के बाद अनुमति लेंगे। श्रीकाशी राजघाट होते हुए जलमार्ग से विश्वनाथ धाम जाएगी। गंगा को प्रणाम करने के बाद, वे जल कलश लेकर भव्य द्वार से बाबा के विस्तारित दरबार में प्रवेश करेंगे और देश भर में 21 नदियों के जल से काशीपति का अभिषेक करेंगे। मंदिर के चौखट के द्वार दर्शन दीर्घा के अखंड दर्शन से बाबा दरबार गर्भगृह और गंगाधर को प्रधान बनाएंगे। शिलापट का अनावरण कर श्रृखंलाबद्ध श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का नाम भक्तों के नाम रखा जाएगा।

Kashi Live: जहाज से गंगा के घाटों को देखेंगे पीएम

मंदिर के विशाल चौक में देशभर के संतों और महंतों से बातचीत करेंगे और उन श्रमयोगियों को बड़े दिल से नमन करेंगे जिन्होंने कम से कम समय में बाबा के धाम को पूरा किया। निर्धारित समय। उनके सम्मान के साथ ही उनके साथ बाबा का प्रसाद भी उनके माथे पर लगाया जाएगा। प्रधानमंत्री वाराणसी गैलरी, सिटी म्यूजियम, मुमुक्षु भवन और धाम में बने अन्य भवनों को भी देखेंगे. जल मार्ग से संत रविदास घाट और फिर सड़क मार्ग से बनारस रेल इंजन फैक्ट्री और विश्राम करेंगे। शाम को प्रधानमंत्री फिर संत रविदास घाट जाएंगे। योगी आदित्यनाथ के साथ सभी मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री जहाज से गंगा के घाटों की छटा देखेंगे और दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल होंगे. प्रधानमंत्री करीब तीन घंटे जहाज पर रहेंगे।

ये मुख्यमंत्री होंगे समारोह में शामिल: योगी आदित्यनाथ के अलावा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गुजरात के भूपेंद्र भाई पटेल, हरियाणा के मनोहर लाल, हिमाचल के जय राम ठाकुर, त्रिपुरा के बिप्लब कुमार देब, असम के हिमंत बिस्वा सरमा, कर्नाटक के बसवराज, मणिपुर के वीरेन सिंह और गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत शामिल होंगे।

 

यह भी पढ़ें-  IRCTC News कैंसिल हो गई है ट्रेन? तो रद्द नहीं करवानी होगी टिकट, अपने आप एकाउंट में आएगा रिफंड
Show More

Related Articles

Back to top button