HOMEज्ञानराष्ट्रीय

IRCTC Latest News आईआरसीटीसी का हजार रुपए रोज में रामपथ यात्रा का आकर्षक पैकेज

IRCTC Latest News आईआरसीटीसी का हजार रुपए रोज में रामपथ यात्रा का आकर्षक पैकेज

Advertisements

IRCTC Latest News (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) ने लोगों को भगवान राम से संबंधित स्‍थलों के दर्शन कराने के लिए रामपथ यात्रा का टूर पैकेज लांच किया है. यह ट्रेन पुणे से शुरू होकर अयोध्‍या पहुंचेगी. अयोध्‍या  समेत 6 धार्मिक स्‍थलों के दर्शन कराएगी. रामपथ यात्रा एक्‍सप्रेस में एसी और स्‍लीपर क्‍लास दोनों होंगे. लोग अपनी सुविधा अनुसार बुक करवा सकते हैं. ट्रेन का संचालन इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्‍म कॉरपोरेशन IRCTC कर रहा है.

-भारतीय रेलवे ने लोगों को भगवान राम से संबंधित स्‍थलों के दर्शन कराने के लिए रामपथ यात्रा का टूर पैकेज लांच किया है. यह ट्रेन पुणे से शुरू होकर अयोध्‍या पहुंचेगी. अयोध्‍या  समेत 6 धार्मिक स्‍थलों के दर्शन कराएगी.  रामपथ यात्रा एक्‍सप्रेस में एसी और स्‍लीपर क्‍लास दोनों होंगे. लोग अपनी सुविधा अनुसार बुक करवा सकते हैं. ट्रेन का संचालन इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्‍म कॉरपोरेशन कर रहा है. रामायण एक्‍सप्रेस की सफलता के बाद आईआरसीटीसी ने रामपथ यात्रा चलाने का फैसला किया है.

-आईआरसीटीसी ने पिछले दिनों दो रामायण यात्रा ट्रेन चलाई है. इसमें एक एसी और साधारण ट्रेन थी. दोनों ट्रेनो का रिस्‍पांस काफी अच्‍छा रहा है. इस वजह से आईआरसीटीसी रामपथ यात्रा एक्‍सप्रेस पुणे नाम से पैकेज लांच किया गया है. यह पूरी यात्रा 7 दिन और 8 रात की होगी. इसमें भगवान राम से जुड़े 6 स्‍थानों के दर्शन कराए जाएंगे.

राम से जुड़े इन स्‍थलों पर जाएगी ट्रेन

IRCTC की ट्रेन सबसे पहले अयोध्‍या पहुंचेगी, यहां से नंदीग्राम, वाराणसी, फिर प्रयाग, श्रृंगवेरपुर और अंत में चित्रकूट जाएगी.

इन स्‍टेशनों पर बोर्डिंग और डी बोर्डिंग की व्‍यवस्‍था

पुणे, लोनवाला, पनवेल, कल्‍यान,न‍ासिक, मनमाड, चालीसगांव, जलगांव, भुसावल, खंडवा और इटारसी से ट्रेन में सवार हो सकते हैं और उतर सकते हैं.

ये होगा किराया

स्‍लीपर क्‍लास का किराया 7560 रुपये और थर्ड एसी का 12600 रुपये होगा. इसमें भी ब्रेकफास्‍ट, लंच, डिनर के अलावा रुकना और लोकल ट्रांसपोर्ट, गाइड आदि शामिल है. यानी स्‍लीपर क्‍लास का रोजाना का हजार रुपए और एसी क्‍लास का डेढ़ हजार के करीब होगा.

यह भी पढ़ें-  Mohan Bhagwat हिंदुत्व की भावना कमजोर हुई इसलिए कमजोर हुआ हिंदू और देश का विखंडन हुआ, ग्वालियर में RSS चीफ
Show More

Related Articles

Back to top button