Corona newsHOME

पैर पसारने लगा कोरोना: पंजाब में जवाहर नवोदय विद्यालय में 13 विद्यार्थी मिले संक्रमित, कक्षाओं को किया गया बंद

पैर पसारने लगा कोरोना: पंजाब में जवाहर नवोदय विद्यालय में 13 विद्यार्थी मिले संक्रमित, कक्षाओं को किया गया बंद

Advertisements

पंजाब के मुक्तसर जिले के गांव वड़िंग खेड़ा स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में एक साथ 13 विद्यार्थी कोरोना संक्रमित मिले हैं। जिले में कोरोना फिर से पैर पसारने लगा है। हालांकि पिछले कई दिनों से जिले में एक-दो केस ही सामने आ रहे थे। मगर काफी समय के बाद एक साथ 13 विद्यार्थियों के कोरोना संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य विभाग फिर से सकते में आ गया है।

विद्यार्थियों के कोरोना संक्रमित आने के बाद स्कूल की कक्षाओं को 14 दिन के लिए बंद कर दिया गया है। सिविल सर्जन डॉ. रंजू सिंगला ने बताया कि रिपोर्ट आने के बाद स्कूल की कक्षाएं 14 दिनों के लिए बंद कर दी गई हैं। यही नहीं कोरोना संक्रमित विद्यार्थियों को स्कूल में ही आइसोलेट किया जा रहा है।

यह डे बोर्डिंग स्कूल है, इसीलिए बच्चों को यहीं रखा जाएगा। घरों में बच्चे भेजने से उनके परिजनों के भी संक्रमित होने का भय है। कुछ दिन पहले गांव वड़िंग खेड़ा स्कूल का आठवीं कक्षा का एक छात्र कोरोना संक्रमित मिला था। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने स्कूल के सभी 400 विद्यार्थियों और स्टाफ के सैंपल लिए थे। जिसकी रिपोर्ट मंगलवार की शाम को प्राप्त हुई। इसमें 13 विद्यार्थी कोरोना संक्रमित मिले हैं। कोरोना संक्रमित विद्यार्थियों में 11 आठवीं कक्षा के हैं और दो छात्र नौवीं कक्षा के हैं।

मानसा में एक की मौत, 42 नए मामले
पंजाब में मंगलवार को मानसा में कोरोना संक्रमण से एक व्यक्ति की मौत हो गई। जबकि 42 नए मामले आए हैं। दो दिनों में संक्रमण की दर बढ़कर 0.25 प्रतिशत पहुंच गई है। अब तक राज्य में 16587 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सूबे में अब तक 15988981 लोगों के नमूने लिए जा चुके हैं। जिनमें 603043 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। अच्छी बात यह रही कि विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 586186 संक्रमित स्वास्थ्य लाभ लेकर ठीक हो चुके हैं। 33 लोगों को सांस लेने में परेशानी होने पर अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है। 270 सक्रिय मामले हैं।

 

यह भी पढ़ें-  Omicron Update : दिल्ली में मिला ओमीक्रोन का पहला मरीज, पॉजिटिव आई तंजानिया से आए शख्स की रिपोर्ट
Show More

Related Articles

Back to top button