HOMEMADHYAPRADESH

हत्या व लूट के आरोपित का 50 लाख के मकान पर चला बुल्डोजर

हत्या व लूट के आरोपित का 50 लाख का मकान ढहाया

Advertisements

छिंदवाड़ा/ परासिया। जिले में माफिया के खिलाफ बड़े पैमाने पर कार्रवाई जारी है। इस क्रम में रविवार को परासिया ब्लॉक के न्यूटन में हत्या और लूट के आरोपित बूटा सिंह के मकान पर प्रशासन का बुलडोजर चला। बूटा सिंह ने डब्ल्यूसीएल की भूमि पर अतिक्रमण कर लिया था, जिसे अतिक्रमण मुक्त कराया गया।

बताया जा रहा है कि आरोपित बूटा सिंह फिलहाल जेल में है। उसकी पृष्ठभूमि आपराधिक रहने के कारण यह कार्रवाई उसके खिलाफ की गई। वेकोलि की शिकायत पर प्रशासन ने अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करते हुए करोड़ों की जमीन को मुक्त कराया। भूपेंद्र सिंह उर्फ बूटा ने न्यूटन वार्ड नंबर 4 स्थित वेकोलि जमीन पर एक पक्का मकान, मवेशियों के दो शेड का निर्माण कर रखा था, साथ ही 80 डिसमिल जमीन अपने कब्जे किया हुआ था। जिसके विरुद्ध वेकोलि पेंच एरिया के अधिकारियों ने प्रशासन से जमीन मुक्त कराने की गुहार लगाई थी।

जिसपर कार्रवाई करते हुए जेसीबी मशीन के माध्यम से अवैध निर्माण तोड़ा गया। बताया जा रहा है 2 करोड़ 52 लाख की जमीन, 50 लाख का मकान व चार हजार वर्गफीट में बने 25 लाख के दो मवेशी शेड थे, जिसको तोड़कर जमीन मुक्त कराईं गई है। जैसे ही प्रशासनिक अमला बूटा सिंह के मकान को तोड़ने के लिए उसके घर के सामने पहुंचा, तत्काल उसके परिजन प्रशासन की इस कार्रवाई का विरोध करने लगे तभी एडिशनल एसपी संजीव सिंह ने एसडीएम के साथ उन्हें कार्रवाई के आदेश को दिखा कर तत्काल मकान से सामान निकालने का निर्देश दिए। इस दौरान काफी देर तक बूटा सिंह के परिजनों की प्रशासन के साथ कहा सुनी होती रही लेकिन आखिरकार प्रशासन ने मकान को तोड़ना प्रारंभ कर दिया।

 

कार्रवाई में अनुविभागीय अधिकारी मनोज कुमार प्रजापति, एसडीओपी अनिल शुक्ला तहसीलदार रायसिंग कुशराम नायब तहसीलदार प्रजीत बंसोड़ परासिया चांदामेटा थानों का पुलिस बल सहित बज्र वाहन मौके पर मौजूद थे। रविवार को अवकश होने के बाद भी पुलिस व राजस्व विभाग का अमला अपने दलबल के साथ पहुंचा तथा न्यूटन में बूटा सिंह के मकान को जेसीबी से गिराना शुरू कर दिया। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि बूटा सिंह ने डब्ल्यूसीएल के जमीन पर मकान बनाया था डब्ल्यूसीएल ने बकायदा नोटिस जारी किया था तथा पुलिस व जिला प्रशासन से सहयोग मांगा था जिसके बाद भारी पुलिस बल के साथ अतिक्रमण तोड़ने की कार्रवाई की गई। आवास के सामने के रास्ते को दो तरफ से ब्लॉक कर दिया गया। इस कार्रवाई के बाद चांदी व्यापारी हत्याकांड के अन्य आरोपितों के परिजन भी दहशत में आ गए। परासिया का सराफा व्यापारी अंकित सोनी जो इस हत्याकांड का मुख्य आरोपित है उसके घर के सामने भी हलचल तेज हो गई।

यह भी पढ़ें-  UP Halchal: भाजपा नेता ने मुस्लिमों को बताया लैला, कहा- उनके लिए कई मजनूं तैयार, ओवैसी ने दिया जवाब
Show More

Related Articles

Back to top button