राष्ट्रीयहाेम

Police Vs CBI मुंबई साइबर सेल ने CBI डायरेक्टर को भेजा समन, फोन टैपिंग मामले में किया तलब

मुंबई साइबर सेल ने CBI डायरेक्टर को भेजा समन, फोन टैपिंग मामले में किया तलब

Advertisements

मुंबई पुलिस ने फोन टैपिंग और डाटा लीक से जुड़े एक मामले में पूछताछ के लिए CBI निदेशक और महाराष्ट्र के पूर्व डीजीपी सुबोध कुमार जायसवाल को समन भेजा है। मुंबई पुलिस की साइबर सेल ने सीबीआई निदेशक को 14 अक्टूबर को बुलाया है। मुंबई पुलिस की साइबर सेल, ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत फोन टैपिंग मामले की जांच कर रही है। ये मामला पुलिस अधिकारियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग से जुड़े डाटा लीक से संबंधित है। मुंबई पुलिस ने ई-मेल के जरिए ये समन भेजा है, जिसमें उनसे 14 अक्टूबर को पेश होने के लिए कहा गया है। वहां उन्हें साइबर सेल के सामने अपना बयान दर्ज कराना होगा।

मामला उस वक्त का है जब आईपीएस अफसर रश्मि शुक्ला महाराष्ट्र में स्टेट इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट की प्रमुख थीं। इस पद पर रहते हुए रश्मि शुक्ला ने अपनी एक रिपोर्ट बनाई थी जो लीक हो गई थी। इस रिपोर्ट में कहा गया था कि पुलिसकर्मियों के ट्रांसफर-पोस्टिंग में भ्रष्टाचार किया गया है। आरोप है कि इस दौरान कई वरिष्ठ राजनेताओं और अधिकारियों के फोन अवैध रूप से टैप किये गये थे। जांच-पड़ताल के दौरान यह रिपोर्ट लीक हो गई थी। रिपोर्ट लीक होने के बाद बड़ा राजनीतिक बवाल शुरू हो गया था। उस वक्त सीबीआई के मौजूदा निदेशक जायसवाल डीजीपी के पद पर तैनात थे। इस मामले की सुनवाई बॉम्बे हाईकोर्ट में चल रही है। वैसे, साइबर सेल ने इससे संबंधित एफआईआर में रश्मि शुक्ला का नाम नहीं लिया है।

 

महाराष्ट्र कैडर के 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी जायसवाल को इस साल मई में दो साल की अवधि के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) का प्रमुख नियुक्त किया गया था। जायसवाल इससे पहले मुंबई पुलिस में शीर्ष पद पर रहे हैं। इस साल की शुरुआत में केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर बुलाए जाने से पहले वे महाराष्ट्र के पुलिस प्रमुख थे।

यह भी पढ़ें-  बड़ी खबर: Increase DA मध्यप्रदेश में सरकारी कर्मचारियों का बढ़ेगा 8 फीसदी मंहगाई भत्ता
Show More
Back to top button