मध्यप्रदेश

वीडियो से पुलिस को मिला जोया किन्नर का सुराग मिला, खुल गया इंदौर के सेल्स डायरेक्टर की हत्या का राज

वीडियो से ही पुलिस को जोया किन्नर का सुराग मिला, खुल गया इंदौर के कारोबारी की हत्या का राज

Advertisements

इंदौर। रीयल एस्टेट कंपनी के सेल्स डायरेक्टर देवांशु मिश्रा की हत्या का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो से ही पुलिस को जोया किन्नर का सुराग मिला था। पुलिस ने वीडियो से ही जोया किन्नर,अल्लू और आलिम की पहचान की और गुरुवार रात तीनों को पकड़ लिया।

हत्या में शामिल जोया किन्नार शाहिद नाइट्रा,अल्लू और आलिम जैसे कुख्यात बदमाशों का गिरोह संचालित करता है। शाहिद ने बुधवार रात ही हुसैनी मस्जिद के पास गोली चलाई थी। गुरुवार सुबह जोया शाहिद की मदद के लिए आजादनगर थाने भी गया था। अरूणनगर रीवा निवासी 30 वर्षीय देवांशु पुत्र रविशंकर शुक्ला की हत्या का शुक्रवार दोपहर पुलिस ने खुलासा कर दिया।

पुलिस ने यादवनगर(आजादनगर) निवासी जोया पिता रफीक अब्बासी,आलिम उर्फ बल्लू पुत्र गुड्डू खान निवासी रामपुरा कन्नौद और अल्लू उर्फ शाहरुख पुत्र शेख मुन्नाा निवासी फिरदौस नगर की अधिकृत गिरफ्तारी दर्शा दी। डीआइजी मनीष कपूरिया के मुताबिक आरोपितों से देवांशु से लूटी गई चेन चाकू,बाइक व व पर्स बरामद कर लिया है।

डीआइजी के मुताबिक आरोपित जोया साथी अल्लू और आलिम के साथ देवासनाका स्थित राजाराम के ढाबा पर खाने जा रहा था। पंचमुखी हनुमान मंदिर के समीप देवांशु और सतीश स्कूटर (रांग साइड) से आते दिख गए। आरोपितों ने गाड़ी(पल्सर) पलटा ली और सत्यसाईं चौराहा से साथ साथ चलने लगे। पहले अल्लू ने लड़की(जोया) को खजराना छोड़ने के लिए कहा। बाद में जोया ने संबंध बनाने का ऑफर दिया और स्कूटर को ओवरटेक कर देवांशु को रोक लिया। आरोपितों ने कुछ देर बातों में उलझाया और चेन झपटी और चाकू मारकर भाग गए।

जोया ने पूछताछ में बताया करीब 8 बजे अल्लू व आलिम ने उसके घर पर बीयर का नशा किया था। रात 10:30 बजे तीनों जवाहर मार्ग स्थित एक होटल में खाना खाने गए। होटलवाले ने मना किया तो देवासनाका स्थित राजाराम का ढाबा के लिए रवाना हो गए। वारदात के बाद आरोपित रिंग रोड से वापस आजादनगर की तरफ चले गया। इस दौरान चौराहों पर पुलिस चेकिंग भी चल रही थी।

तीन सवारी होने के बाद भी आजादनगर,कोतवाली,तुकोगंज,एमआइजी,विजयनगर,लसूड़िया,खजराना और तिलकनगर थाना क्षेत्र से आरोपित गुजरे और किसी ने रोका भी नहीं। गुुरुवार सुबह जोया आजादनगर थाने भी पहुंची। उसके पूर्व प्रेमी शाहिद नाइट्रा ने बुधवार रात आफिया बी को गोली मार दी थी। सिपाही पुनित और अमित शाहिद की तलाश में जोया के घर पहुंच गए थे। जोया को सुबह जवानों के आने की खबर मिली तो वह आग बबूला हो गया और थाने पर पहुंच गया। पुलिस वालों ने उससे कोई पूछताछ नहीं की और घर रवाना कर दिया।

वीडियो उस वक्त का है जब जोया और आलिम और अल्लू चेन लूटने के बाद देवांशु को चाकू मार रहे थे। तभी कार और स्कूटर सवार वहां पर आ गए और आलिम और अल्लू बाइक लेकर भागने लगे, लेकिन जोया देवांशु के दोस्त सतीश जाटव से लेपटॉप लूटने में लगी थी।

तभी एक व्यक्ति ने पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया और एएसपी(पूर्वी) राजेश रघुवंशी को वीडियो भेज दिया। देर रात टीआइ इंद्रमणि पटेल और तहजीब काजी की टीम ने आजादनगर में दबिश देकर जोया व आलिम व अल्लू को पकड़ लिया। सूत्रों के मुताबिक देवांशु ने जोया से संबंध बनाने की बात की थी। तभी वह हावी हुई और चेन लूटने में जुट गई

यह भी पढ़ें-  Terrorist in MP: सिमी ने मालवा-निमाड़ के जंगल में लगाए थे कैंप
Show More
Back to top button