मध्यप्रदेशहाेम

MP कांग्रेस को एक और झटका, अरुण यादव ने खंडवा से उपचुनाव लड़ने से किया इंकार

कांग्रेस को एक और झटका, अरुण यादव ने खंडवा से उपचुनाव लड़ने से किया इनकार

Advertisements

भोपाल। मध्य प्रदेश में कांग्रेस के लिए उपचुनाव में चुनौतियां बढ़ती जा रही हैं। लगातार दूसरी रात कांग्रेस को झटका लगा है। शनिवार की रात जोबट विधानसभा क्षेत्र में पार्टी के प्रबल दावेदार माने जा रहे विशाल रावत ने मां के साथ कांग्रेस छोड़ दी तो आज रात खंडवा लोकसभा क्षेत्र के उपचुनाव में डेढ़ महीने से तैयारी कर रहे पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने अपनी दावेदारी वापस ले ली है। हाईकमान को पत्र लिखकर चुनाव नहीं लड़ने की वजह बताई है। उधर सहप्रभारी राजकुमार पटेल से बात की गई तो उन्होंने कहा यादव के फैसले की उन्हें जानकारी नहीं है।

यह भी पढ़ें-  बड़ी खबर: 28 फीसदी से बढ़कर 31 फीसदी हुआ DA केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों को खुशखबरी

मध्यप्रदेश में खंडवा लोकसभा चुनाव व जोबट, रैगांव और पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव होने हैं जिसके लिए आठ अक्टूबर तक नामांकन दाखिल होना है। कांग्रेस के लिए चुनाव की तारीख नजदीक आते-आते मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं। खंडवा लोकसभा उपचुनाव में अरुण यादव की तैयारियों को देखते हुए उनकी दावेदारी मजबूत दिखाई दे रही थी लेकिन स्थानीय कांग्रेस नेताओं के विरोध के चलते उन्होंने कुछ दिनों से चुनाव से दूर रहने का मन बनाना शुरू कर दिया था।

दोपहर में ही दिए थे संकेत

अरुण यादव ने रविवार को दोपहर में शायराना अंदाज में इसका इजहार भी किया था। इसमें उन्होंने लिखा थाः
मेरे दुश्मन भी मेरे मुरीद हैं शायद, वक्त बेवक्त मेरा नाम लिया करते हैं।
मेरी गली से गुजरते हैं छुपा के खंजर, रूबरू होने पर सलाम किया करते हैं।
यादव ने इन पक्तियों को ट्वीट कर अपने विरोधियों पर तंज कसा था। विरोधी उनके लिए क्षेत्र में काफी प्रचार कर रहे थे जिससे यादव दुखी थी। निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा ने खुलकर अपने क्षेत्र से लेकर भोपाल तक मीडिया के सामने यादव की उम्मीदवारी को चुनौती दी थी। इनके अलावा कांग्रेस के भीतर भी कई नेताओं द्वारा यादव के खिलाफ दबी जुबान में प्रचार किया जा रहा था।

Show More
Back to top button