हाेम

सौतेली मां ने 18 लाख रुपए की FD के लालच में नाबलिग बच्चे को उतारा मौत के घाट, जहर देकर मार डाला

सौतेली मां ने 18 लाख रुपए की FD के लालच में नाबलिग बच्चे को उतारा मौत के घाट, जहर देकर मार डाला

Advertisements

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर (Gwalior) जिले से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. पुलिस ने लगभग 1 महीने पहले जहर से हुई 10 साल के नाबलिग बच्चे के मौत की गुत्थी सुलझा ली है. पुलिस द्वारा की जांच में सामने आया है कि मासूम बच्चे (Innocent child) को उसकी ही सौतेली मां (Step mother) ने खाने में जहर देकर मार दिया था. इसके बाद अस्पताल में बच्चे की हालत बिगड़ने पर तड़पते हुए उसने दम तोड़ दिया. जहां डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया था.

दरअसल, ये मामला ग्वालियर जिले में मुरार तहसील के बड़ागांव का है. पुलिस अधिकारी के मुताबिक मर्डर को घटना का रूप दिया गया था. लेकिन डॉक्टर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट और पुलिस द्वारा की जांच-पड़ताल में पूरा मामला खुल गया. वहीं, पुलिस ने बच्चे की सौतेली मां ने जहर देने की बीत कुबूल ली है. जहर की पुड़ियां भी बरामद हो गई है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मुरार के बड़ागांव खुरैरी के रहने वाले राजू मिर्धा के 10 साल का बेटे नितिन मिर्धा की 24 अगस्त को खाना खाने के बाद अचानक तबीयत बिगड़ गई. वह बार-बार उल्टी कर रहा था. गंभीर हालत में उसे हॉस्पिटल में एडमिट किया गया. जहां उसने इलाज के दौरान तड़पते हुए दम तोड़ दिया. वहीं, डॉक्टर ने बच्चे के शरीर में जहर होने की पुष्टि की थी.

यह भी पढ़ें-  हम एक असली लोकायुक्त बनाएंगे.. बयान से फंसे कमलनाथ, BJP ने की आयोग से शिकायत

जहर के कारण शक की सूई गई मां पर

गौरतलब है कि पिता राजू की दूसरी पत्नी और नितिन की सौतेली मां जूली ने आशंका जताई थी कि नितिन ने खाने में कुछ जहरीला पदार्थ खा लिया है. पर डॉक्टरों का कहना था कि ऐसा जहर नहीं है जो आमतौर पर खाने में आया हो. यह बहुत तेज जहर है. इसके बाद पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम कराया था. इस मामले में पुलिस ने अपनी जांच-पड़ताल तेज की तो बार-बार शक की सुई मृतक की सौतेली मां जूली पर आ टिकी थी.

सख्ती से पूछताछ में मां ने उगला सच

बता दें कि जब पुलिस ने बच्चे की मौत पर सौतेली मां से सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी महिला ने सब कबूल लिया. आरोपी महिला ने पुलिस को बताया कि मृतक नितिन को उसकी पहली मां की मौत के बाद FD के 18 लाख रुपए मिले थे. इस दौरान पिता ने नितिन के नाम से एफडी कर दिया था. सौतेली मां जूली उसमें से कुछ रुपये मांग रही थी, लेकिन पति ने देने से इनकार कर दिया था.

पुलिस ने आरोपी मां को किया गिरफ्तार

इस मामले में पुलिस ने पति राजू की तहरीर पर बेटे नितिन की हत्या के मामले में जूली के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है. जिसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है.

Show More
Back to top button